एनीमिया से बचने के लिए करे गुड़ और चने का सेवन

एनीमिया की समस्या दूर करने में गुड़ और चना बेहद फायदेमंद है. यदि हल्का एनिमिया है और ऐसे में एनीमिया को खुराक के जरिए काबू में किया जा सकता है. गुड़ में उच्च मात्रा में आयरन होता है. इसमें शुगर भी मौजूद होती है. इसका आयरन शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ाता है. गुड़ रोज खाने से खून की सफाई होती है. यह खून में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता है.  गुड़ में . पोटेशियम, आयरन, सोडियम, विटामिन, मिनरल, काबरेहाइड्रेट की मौजूदगी से सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है. 

1-ये रोग-प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा करता है और खून से जुड़ी समस्याओं से हमारी रक्षा करता है. गुड़ को अगर चने के साथ मिला कर खाया जाए तो गुड़ की गुणवत्ता बढ़ जाती है.

2-चना शरीर के अंदर की गंदगी को अच्छे से साफ करता है. जिससे डायबिटीज, एनीमिया आदि की परेशानियां दूर होती हैं. और यह बुखार आदि में भी राहत देता है. चना प्रोटीन, नमी, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, कैल्शियम और विटामिन्स का अच्छा स्रोत है. चने में 27 और 28 प्रतिशत फॉस्फोरस और आयरन होता है. यह न केवल रक्त कोशिकाओं का निमार्ण करते हैं बल्कि हीमोग्लोबीन बढा कर किडनियों को भी नमक की अधिकत्ता से साफ करते हैं.

3-इस तरह से गुड़ और चने को मिलाकर खाने से आवश्यक तत्वों की कमी पूरी होती है, जो एनिमिया रोग के लिए जिम्मेदार होते हैं. ये दोनों मिलकर महिलाओं की माहवारी के दौरान होने वाले रक्त के नुकसान को पूरा करते हैं. गुड़ और चना न केवल आपको एनिमिया से बचाने का काम करते हैं, बल्कि आपके शरीर में आवश्यक उर्जा की पूर्ति भी करते हैं. शरीर में आयरन अवशोषित होने पर उर्जा का संचार होता है, जिससे थकान और कमजोरी महसूस नहीं होती. 

क्यों लगाते है दाल में तड़का

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -