युवक शाम को बनना था दूल्हा, दिनभर खड़ा रहा ATM की लाइन में

अहमदाबाद: देशभर में 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट बंद करने के केंद्र सरकार के नियम के बाद लोग बैंकों में लंबी कतारों में लगे हैं। कुछ लोग नोट बदलने की कवायद में हैं तो कुछ लोगों द्वारा अपने कालेधन को बैग्स में भरकर रद्दी की तरह या तो फैंका जा रहा है या फिर जला दिया जा रहा है। ख़बरें तो यहाँ तक है कि कुछ तो इन नोटों को गंगा में ही बहा चुके हैं।

हालांकि देश में मौजूद एटीएम के बाहर लोगों की कतारें हैं। इन कतारों में वे लोग भी शामिल हैं जिनके यहां पर वैवाहिक आयोजन हो रहे हैं। खास बात तो यह है कि जिन्हें दुल्हा बनकर सजना है वे भी ट्रांजिक्शन की कतार में लगकर पसीना - पसीना हो रहे हैं।

अहमदाबाद के शाहपुर के 24 वर्ष के शोएब शेख की शादी है मगर पैसे की कमी के कारण उसके विवाह की रस्म पूरी नहीं हो सकी है। जिसके कारण रूपयों की मजबूरी ने उसे बैंक की कतार में खड़ा कर दिया। हालात ये थे कि शाम के समय शोएब को दुल्हा बनना था मगर वह दिनभर कतार में लगा। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -