कंपनियां कर सकेगी स्पेक्ट्रम की खरीद-फरोख्त का काम

नई दिल्ली : कैबिनेट द्वारा बुधवार को आयोजित बैठक में कई अहम बातों पर फैसले लिए गए. जहाँ एक ओर सरकार ने गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम को मंजूरी दे दी है वहीँ दूसरी ओर दूरसंचार कंपनियों के लिए स्पेक्ट्रम साझेदारी नियमों को भी मंजूरी मिल गई है. इस बैठक के तहत टेलिकॉम मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने बताया है कि अब सभी कंपनियां स्पेक्ट्रम की खरीद-फरोख्त का काम भी कर सकती है. यानी यदि किसी कम्पनी का कोई स्पेक्ट्रम खाली पड़ा हुआ है तो वे उसे खरीदने का काम कर सकती है. सभी तक यह नियम था कि केवल सरकार ही स्पेक्ट्रम को बेच सकती थी.

मामले में सरकार का यह भी कहना है कि इस नई योजना के द्वारा कॉल ड्राप जैसी समस्या का भी समाधान हो सकेगा. रविशंकर प्रसाद ने यह बताया है कि इसके लिए कम्पनियों को 45 दिन पहले हलफनामा पेश करना होगा और इसकी सूचना भी देना होगी. इसके साथ ही सरकार ने गोल्ड मोनेटाइजेशन को लेकर भी अहम फैसला लिया है जिसमे यह बात बताई गई है कि अब बैंक में गोल्ड जमा करने पर बैंक आपको इसके लिए ब्याज भी देगी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -