फ्रेशर्स के लिए TCS में नौकरी पाने का बेहतरीन अवसर, 40 हजार युवाओं की होगी नियुक्ति

भारत की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर निर्यातक TCS के एक टॉप ऑफिसर ने बताया कि कंपनी वित्त वर्ष 2021-22 के चलते कैंपस से 40,000 से ज्यादा फ्रेशर्स को जॉब देगी। TCS के वैश्विक मानव संसाधन प्रमुख मिलिंद लक्कड़ ने यहां संवाददाताओं से बताया कि पांच लाख से ज्यादा कर्मचारियों वाली प्राइवेट सेक्टर की सबसे बड़ी नियोक्ता कंपनी ने बीते वर्ष कैंपस से 40,000 स्नातकों को भर्ती किया था तथा इस बार ये आंकड़ा बेहतर ही रहेगा। 

उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी से जुड़ी पाबंदियों की वजह से भर्ती करने में कोई मुश्किल नहीं हुई तथा बीते वर्ष कुल 3.60 लाख फ्रेशर छात्र एक प्रवेश परीक्षा में आभासी तौर पर साम्मिलित हुए। लक्कड़ ने रिपोटर्स से बताया, भारत में कैंपस से हमने बीते वर्ष 40,000 लोगों को काम पर रखा था। हम इस वर्ष 40,000 या उससे ज्यादा व्यक्तियों को नियुक्त करेंगे। साथ-साथ उन्होंने बताया कि इस वर्ष भर्ती ज्यादा तेज रहेगी।

उन्होंने बताया कि इसी प्रकार कंपनी बीते वर्ष अमेरिकी कैंपस से भर्ती किए गए 2,000 प्रशिक्षुओं की तुलना में बेहतर करेगी, हालांकि उन्होंने इन बारे में सटीक संख्या नहीं बताई। कंपनी के मुख्य परिचालन अफसर एन गणपति सुब्रमण्यम ने बताया कि भारत में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है तथा उन्होंने इनकी लागत को लेकर चिंताओं से भी असहमति व्यक्त की। उन्होंने भारतीय प्रतिभा को अभूतपूर्व बताया। बयान के अनुसार, जून माह में नौकरियों के इच्छुक व्यक्तियों एवं नियोक्ताओं के बीच कुल 75,000 संपर्क बने। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कोरोना महामारी से प्रभावित हुए नौकरी के इच्छुक व्यक्तियों तथा नियोक्ताओं को आपस में जोड़ने के लिए बीते वर्ष रोजगार बाजार पोर्टल आरम्भ किया था। यह वेबसाइट jobs.delhi.gov.in पर उपलब्ध है।

टीसीएस ने वित्त वर्ष 22 में 40000 फ्रेशर्स को नियुक्त करने की योजना बनाई

यूपी पुलिस में नौकरी पाने का एक और मौका, बढ़ी आवेदन करने की अंतिम तारीख

विश्वविद्यालय में शिक्षकों की भर्ती के लिए पीएचडी करना होगा अनिवार्य

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -