+

वक्री ग्रह 2020: नए वर्ष में पांच ग्रह रहेंगे वक्री, जानिये तिथि समय व प्रभाव

वक्री ग्रह 2020: नए वर्ष में पांच ग्रह रहेंगे वक्री, जानिये तिथि समय व प्रभाव

ग्रहों की वक्री चाल से आशय है ग्रहों का उल्टी दिशा में चलना। परन्तु वास्तव में कोई भी ग्रह कभी भी पीछे की ओर नहीं चलता है। ये महज एक भ्रम है। दरअस्ल, पृथ्वी से ग्रह की दूरी, उस ग्रह की अपनी गति के अंतर के कारण ग्रहों का उलटा चलना प्रतीत होता है। सूर्य और चंद्रमा ऐसे दो ग्रह हैं जो कभी वक्री नहीं होते हैं। जबकि राहु और केतु सदैव वक्री चाल चलते हैं। वर्ष 2020 में पांच ग्रह हैं जो वक्री होंगे। ये पांच ग्रह मंगल, बुध, बृहस्पति, शुक्र और शनि हैं। यहां इन पांचों ग्रहों के वक्री होने की तारीख और समय बता रहे हैं। 

2020 में मंगल वक्री
10 सितंबर, 2020, गुरुवार के दिन तड़के सुबह 03:52 बजे वक्री
नवंबर 14, 2020, को सुबह 06:04 बजे मार्गी 

2020 में बुध वक्री
फरवरी 17, 2020, सोमवार सुबह 06:23 बजे वक्री
मार्च 10, 2020, मंगलवार सुबह 09:18 बजे मार्गी

जून 18, 2020, गुरुवार सुबह 10:29 बजे वक्री
जुलाई 12, 2020, शनिवार दोपहर 01:56 बजे मार्गी

अक्टूबर 14, 2020, बुधवार सुबह 06:34 बजे वक्री
नवंबर 3, 2020, मंगलवार रात्रि 11:19 बजे मार्गी

2020 में बृहस्पति वक्री
मई 14, 2020, गुरुवार रात 08:01 बजे वक्री
सितंबर 13, 2020, रविवार सुबह 06:11 बजे मार्गी

2020 में शुक्र वक्री
मई 13, 2020, बुधवार दोपहर 12:14 बजे वक्री
जून 25, 2020, गुरुवार दोपहर 12:17 बजे मार्गी

2020 में शनि वक्री
मई 11, 2020, सोमवार सुबह 09:39 बजे वक्री
सितंबर 29, 2020, मंगलवार सुबह 10:40 बजे मार्गी

प्रभाव
किसी भी वक्री ग्रह का प्रभाव राशि पर उसके संबंध अनुसार पड़ता है। कोई भी ग्रह चाहें वक्री हो या फिर मार्गी, वह अपनी उच्च राशि में अच्छा फल देता है, जबकि नीच राशि में वह अशुभ फलकारी होता है।

 

जानिये इस सप्ताह के व्रत और त्यौहार

अंकज्योतिष : जानिये 3 दिसंबर का भाग्यशाली अंक और शुभ रंग

इन बीज मंत्रों से करिये कुंडली में ग्रहों को शक्तिशाली