चीनी की बढ़ती कीमतें कर रही परेशान

नई दिल्ली : चीनी की बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए सरकार के द्वारा हरसंभव प्रयास किए जा चुके है. लेकिन फिर भी कीमतों में कमी नहीं देखने को मिल रही है. इसको लेकर ही सरकार ने चीनी पर स्टॉक लिमिट भी लगाई और साथ ही 4.5 रुपए प्रति क्विटंल शुगर सब्सिडी भी वापस ले ली. और अब यह बात सामने आ रही है कि सरकार के द्वारा चीनी पर 124 रुपए प्रति क्विंटल सेस को कम करने को लेकर विचार किया जा रहा है.

गौरतलब है कि फरवरी माह के दौरान ही शुगर सेस को 24 रुपए से बढ़ाकर 124 रुपए प्रति क्विंटल किया गया था. जानकारी में यह देखने को मिला है कि जैसे ही थोक महंगाई दर पॉजिटिव जोन में आई वैसे ही सरकार की परेशानी भी मजबूत हो गई. बताया जा रहा है कि अप्रैल माह के दौरान ड्ब्ल्यूपीआई महंगाई दर को -0.85 फीसदी से बढ़कर 0.34 फीसदी पर पहुंचते हुए देखा गया है.

जबकि पिछले वर्ष ने इसी माह अवधि में डब्ल्यूपीआई महंगाई दर -2.43 फीसदी पर देखी गई थी. इस मामले में खाद्य मंत्री रामविलास पासवान का कहना है कि चीनी की कीमतें जहाँ बीते वर्ष में 22-23 रुपए किलो देखी गई थी तो वही अब ये 39 रुपए किलो हो गई है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -