ESI का लाभ अब मिल सकेगा मजदूरों और रिक्शा चालकों को भी

ESI का लाभ अब मिल सकेगा मजदूरों और रिक्शा चालकों को भी

नई दिल्ली : सरकार के द्वारा अब कई राज्यों के कर्मचारियों को कर्मचारी राज्य बीमा (ESI) योजना के दायरे में लाए जाने का निर्णय लिया गया है. इसके तहत निर्माण मजदूर, रिक्शा, आटो रिक्शा चालक और साथ ही कार ड्राइवर भी शामिल बताये जा रहे है. लेकिन इसके साथ ही यह खबर भी सामने आ रही है कि मणिपुर, मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश में यह योजना अभी लागु नहीं की जाना है. इसके तहत ही यह जानकारी भी सामने आई है कि ESI के द्वारा यह डिस्पेंसरियों को अस्पतालों में तब्दील किये जाने का काम किया जायेगा.

इसके साथ ही इस योजना का लाभ आंगनबाड़ी, आशा और मिड-डे मील कार्यकर्ताओं को भी देने पर विचार किया जा रहा है. फ़िलहाल ESI चिकित्सा का लाभ करीब 2 करोड़ कर्मचारियों और 8 करोड़ परिजनों को मिल रहा है और इसके विस्तार के बाद इसका लाभ साढ़े चार करोड़ कर्मचारियों के साथ ही 20 करोड़ परिजनों को भी मिल पायेगा.

इस मामले की जानकारी में केंद्रीय श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने एक सम्मेलन के दौरान यह भी कहा है कि 1 अप्रैल 2016 से 15 हजार तक का वेतन पाने वाले सभी कर्मचारियों को ESI का लाभ मिलना शुरू हो जायेगा. साथ ही 1 अप्रैल 2016 से यह योजना देश के कई क्षेत्रों में शुरू कर दी जाएगी. यह बात भी सामने आई है कि फ़िलहाल 10 से कम कर्मचारियों वाले संस्थानों के लिए यह योजना उपलब्ध नहीं है लेकिन अब इसका लाभ वे भी ले सकेंगे.