30 हजार टन अतिरिक्त दाल के आयात के प्रस्ताव को मंजूरी

बाजार में बेलगाम होती जा रही दालों की कीमतों को नियंत्रित करने के लिए खाद्य मंत्रालय ने बाजार में दालों की उपलब्धता बढ़ाने के मकसद से 30 हजार टन अतिरिक्त दाल का आयात करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के सचिव हेम पांडे की अध्यक्षता में हुई प्राइस स्टेबिलाइज़ेशन फंड की एक महत्वपूर्ण बैठक में यह फैसला लिया गया.

बता दें कि सरकार की कोशिशों के बावजूद बाजार में अरहर दाल, उड़द दाल और चना दाल काफी ऊंची दरों पर बिक रही हैं. इसको देखते हुए खाद्य मंत्रालय ने दाल का अतिरिक्त आयात करने का फैसला किया है. अभी यह तय किया गया है कि 20 हजार टन अरहर दाल और 10 हजार टन उड़द दाल का आयात किया जाएगा.

खाद्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार अब तक सरकार 56 हजार टन दाल आयात करने के लिए करार कर चुकी है. इसके अलावा सरकारी एजेंसियों ने अब तक स्थानीय बाजार से 1,19,572 टन दाल खरीदी है. इसकी वजह से बफर स्टाक में अब तक 1,75,572 टन दाल जमा हो चुकी है.अब तक केंद्र ने राज्य सरकारों को 29 हजार टन से ज्यादा दाल सस्ती दरों पर उपलब्ध कराई है.

लगातार बारिश से सब्जियों के दाम 40 फीसदी तक बढे

चना दाल में आग झरती तेजी से उपभोक्ताओं की मुश्किलें बड़ी 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -