आसाराम के सूरत आश्रम से हटाया अतिक्रमण

सूरत: प्रवचनकार आसाराम बापू यौन दुराचरण के मामले में जोधपुर जेल में बंद हैं, लेकिन उनकी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। मिली जानकारी के अनुसार सूरत कलेक्टर ने आसाराम आश्रम की जमीन को असंगत करार दिया है। उनका कहना है कि आसाराम ने सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा जमाया हुआ है। इसके एवज में आसाराम आश्रम से 17 करोड़ रूपए वसूलने का आदेश कलेक्टर ने दिया है। मिली जानकारी के अनुसार आसाराम आश्रम के व्यवस्थापकों को हर्जाने के करीब 17 करोड़ रूपए जमा करने के लिए 30 दिन का समय दिया गया है। 

बताया जा रहा है कि आश्रम के नाम पर सरकारी जमीन पर कब्जा जमा लिया गया है। जिसमें आश्रम ने 34400 वर्ग मीटर सरकारी जमीन पर कब्जा जमा लिया। संत कुटीर, गोशाला, औषधालय व मंदिर भी इस अवैध कब्जे पर निर्मित कर लिए गए। प्रशासन ने जब कड़ी कार्रवाई की तो अतिक्रमण हटाया जा सका। उल्लेखनीय है कि देशभर में आसाराम के आश्रम बड़ी संख्या में हैं। इन आश्रमों की जमीनों का रकबा बहुत बड़ा है। इन संपत्तियों का मूल्य ही करोड़ों में आंका जा रहा है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -