'अवतार' को लेकर ट्रोल हुए गोविंदा ने ट्रोलर्स को दिया जवाब, 'मुझे फर्क नहीं..'

Aug 04 2019 02:08 PM
'अवतार' को लेकर ट्रोल हुए गोविंदा ने ट्रोलर्स को दिया जवाब, 'मुझे फर्क नहीं..'

बॉलीवुड एक्टर गोविंदा इन दिनों काफी चर्चा में बने हुए. उनकी चर्चा का विषय है हॉलीवुड की फिल्म 'अवतार'. उनके अनुसार उन्हें इस फिल्म का ऑफर मिला था जिसे करने से उन्होंने इंकार कर दिया था. इसके बाद हाल की में उनका एक इंटरव्यू आया है जिसमें उनसे कई तरह के सवाल किये गए हैं. वहीं इस बात को कुछ लोग मान नहीं रहे हैं जिस पर काफी मिम्स भी बन रहे हैं. इस पर भी गोविंदा ने उन्हें अच्छा जवाब दिया है. आइये आपको बता देते हैं. 

दरअसल, उनसे पूछा गया कि जेम्स कैमरन की फिल्म 'अवतार' ऑफर पर वो काफी ट्रोल हो रहे हैं. इसका जवाब भी उन्होंने करार दिया है. 

उन्होंने कहा, 'मैं सोशल मीडिया पर ऐक्टिव नहीं हूं लेकिन मेरी बेटी वहां की सारी जानकारी देती रहती हैं. मुझे इस बात से कोई परेशानी नहीं है कि लोग ताज्जुब कर रहे हैं कि गोविंदा भी जेम्स कैमरन की फिल्म ठुकरा सकता है. मैं समझ सकता हूं कि उनकी सोच कहां तक है, और मैं इस सोच का सम्मान करता हूं. उनको भी अपनी राय रखने का अधिकार है. यह ऐसा नहीं है कि मेरी औकात नहीं है लेकिन यह लोगों का पहले सोच बना लेने का अधिकार है. चाय वाला कैसे आगे बढ़ सकता? टीवी का ऐक्टर फिल्म में कैसे काम कर सकता है? यही एलीट और खुद को बढ़ा समझने की सोच है. ये गलत है, आपको विश्वास नहीं करना है तो मत कीजिए लेकिन इस तरह की बातें मत कीजिए.'

इसके बाद उनसे पूछा गया, क्या कैमरन ने उनकी कोई फिल्म देखी थी और वह कैसे उन्हें कास्ट करने पहुंचे?

इस पर उन्होंने कहा, 'मैं उस समय सुपरस्टार था. उन्होंने जरूर मेरी फिल्म देखी थी हालांकि मुझे इसके बारे में पक्की जानकारी नहीं है. एक सरदारजी थे जो मुझे अच्छी तरह जानते थे और वह मेडिकल के क्षेत्र से जुड़े हुए थे. वह मेरे सीनियर थे और देव आनंद साहब के दोस्त थे. वह 'अवतार' फिल्म के फाइनैंनसर्स में से एक थे. जैम्स कैमरन और उनकी मुलाकात लंदन में हुई थी जहां से मुझे फिल्म की कहानी सुनाई गई. तभी मैंने इस फिल्म के नाम का सुझाव दिया था. सरदार जी ने तब देव साहब से नाराजगी भी जताई थी कि मैंने इतनी बड़ी हॉलिवुड फिल्म ठुकरा दी है. देव साहब ने फिर फोन करके मुझसे इस बारे में बात भी की थी.'  

आखिर में उनसे पूछा कि उन्होंने इस फिल्म को करने से क्यों इंकार कर दिया? 

इस पर उन्होंने कहा कि, 'फिल्म के लिए अपनी बॉडी को करीब 400 दिनों से अधिक पेंट करवाना था, लेकिन इस प्रक्रिया को सहने की क्षमता मुझमें नहीं थी. मुझे याद है कि यश चोपड़ा जी ने मुझे चांदनी (1989) में भी एक ऐसी भूमिका निभाने की पेशकश की थी, जो शारीरिक रूप से बीमार था. मैंने उसको भी मना कर दिया था. बाद में ये भूमिका ऋषि कपूर द्वारा निभाई गई थी. मेरा ये मानता था कि लोग मुझे इस तरह की भूमिका में स्वीकार नहीं करेंगे. आपको बता दें फिल्म अवतार में अभिनेता सैम वर्थिंगटन जो फिल्म में जेक सुली की भूमिका में नजर आये थे. उनसे पहले वो किरदार गोविंदा को ऑफर किया गया था.

जॉन के पहले इस एक्टर को हुई थी 'बाटला हाउस' ऑफर, लेकिन नहीं कर पाए काम

'सांड की आँख' के लिए तापसी नहीं थी पहली पसंद, इस एक्ट्रेस के पास थी फिल्म