बिरसा मुंडा के जन्मदिन पर जनजातीय गौरव दिवस मनाएगी सरकार, मोदी कैबिनेट का फैसला

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आज बुधवार को कई अहम फैसले लिए हैं. केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने फैसलों के संबंध में जानकारी देते हुए बताया है कि कैबिनेट में भगवान बिरसा मुंडा के जन्मदिन पर यानी 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस (Tribal Pride Day) मनाने का फैसला लिय गया है. जनजातीय गौरव दिवस 15 से 22 नवंबर तक एक सप्ताह तक मनाया जाएगा.

अनुराग ठाकुर ने आगे कहा कि, 'भारतीय इतिहास और संस्कृति में जनजातियों के विशेष स्थान प्रदान करने और उनके योगदान को सम्मानित करने व आने वाले पीढ़ियों को इस सांस्कृतिक विरासत और राष्ट्रीय गौरव के संरक्षण के लिए प्रेरित करने के मकसद से 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस घोषित करने का फैसला ​लिया गया है.' वहीं 2 वर्षों के लिए सांसद निधि को कोरोना से लड़ाई के लिए 2020-2021 और 2021-2022 रिलीज नहीं करने के फैसले में थोड़ा बदलाव करते हुए 2021 के बाकी अवधि के लिए 2-2 करोड़ आवंटित की गई है. वहीं 2022 से अगले 3 वर्षों तक पूरा 5 करोड़ रुपया सांसद निधि का रिलीज होगा.

वहीं जुट के लिए वर्ष 2021-2022 के अनुमोदित आरक्षित मानदेय निर्धारित किया गया है. घरेलू उद्योग की रक्षा की जाएगी. जुट मिलों और 4 लाख कृषक और 40 लाख मजदूरों को फायदा होगा. बता दें कि भारत सरकार प्रत्येक साल 8000 करोड़ जुट बैग खरीदती है.

इस बैंक ने अपने ग्राहकों को दिया बड़ा झटका, अब सेविंग्स पर मिलेगा और कम ब्याज

अपने दम पर सबसे अमीर महिला बनी नायका की संस्थापक फाल्गुनी नायर

भारत आज करेगा क्षेत्रीय एनएसए की मेजबानी, आठ देशों के शामिल होने की उम्मीद

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -