सरकार ने विदेशों से MBBS करने वालों को किया आगाह

By Sandeep Meena
Sep 25 2015 12:47 AM
सरकार ने विदेशों से MBBS करने वालों को किया आगाह

नई दिल्ली : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने MBBS की पढ़ाई करने के लिए विदेश जाने वाले स्टूडेंट्स को चेताने के लिए 42 देशों के 261 मेडिकल विश्वविद्यालयों एवं महाविद्द्यालयो की लिस्ट जारी की है। इन देशों से पढ़कर आने वाले भारतीय स्टूडेंट्स के स्क्रीनिंग टेस्ट में पास होने के प्रतिशत के आधार पर रेंकिग तैयार की है।

नेशनल बोर्ड ऑफ एग्जामिनेशन (NBE) ने रेकिंग में बताया कि लगभग दर्जन भर विश्वविद्यालय एवं कॉलेज ही ऐसे हैं जहां से अध्यनरत स्टूडेंट्स का स्क्रीनिंग टेस्ट में पास होने का प्रतिशत सौ फीसदी है। जानकारी दें कि विदेशों से MBBS करने पर भारत में डॉक्टरी का लाइसेंस लेने के लिए स्क्रीनिंग टेस्ट पास करना होता है।

इस रेंकिंग में NBE ने 2012-2014 के दौरान उपरोक्त देशों से डिग्री लेकर आए परीक्षा में बैठने वाले 35725 छात्रों के परिणामो को आधार बनाया है। इनमें से महज 15 फीसदी मतलब की 5488 छात्र ही परीक्षा में सफल हो पाए थे। अब सामने नतीजा यह है कि डॉक्टरी की डिग्री लेकर हजारों छात्र हाथ पर हाथ धरे बैठे हुए हैं इसलिए सरकार ने छात्रों को आगाह करने के लिए राष्ट्रवार विश्वविद्यालयों एवं कालेजों की रेंकिग जारी की है।