बिहार में सरकार द्वारा 6 इंजीनियरिंग व 10 पॉलीटेक्निक कॉलेज खोले जाने का रास्ता साफ

May 03 2016 05:49 PM
बिहार में सरकार द्वारा 6 इंजीनियरिंग व 10 पॉलीटेक्निक कॉलेज खोले जाने का रास्ता साफ

पटना। बिहार में 6 सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज और 10 सरकारी पॉलिटेक्निक संस्थान खोले जाने की अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषदू ने मंजूरी दे दी है। राज्य सरकार ने इस बारे में बताते हुए कहा कि संस्थानों में 2016-17 से पढ़ाई शुरु हो जाएगी।

यह जानकारी बिहार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री जय कुमार सिंह ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए दी। सिंह ने कहा कि आज का दिन बिहार के इतिहास में मील का पत्थर साबित होगी। राज्य में 7 इंजीनियरिंग कॉलेज और 22 पॉलीटेक्निक कॉलेज पहले से ही चलाए जा रहे है।

इन संस्थानों की नामांकन क्षमता 1643 और 6015 है। उन्होंने बताया कि इस वर्ष बिहार संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा परिषद के माध्यम से राज्य के सरकारी इंजीनियरिंग एवं पोलिटेक्निक संस्थानों में प्रतियोगिता परीक्षा के माध्यम से प्रवेश लिया जाता है।

उन्होने बताया कि इस वर्ष 1643 सीट होने के बावजूद 38,400 छात्रों द्वारा आवेदन किया गया है। दूसरी ओर पॉलीटेक्निक कॉलेज में 6015 सीट पर कुल 1,15,000 आवेदन आए है। नए संस्थान खुलने के बाद राज्य में 13 इंजीनियंरिंग कॉलेज और 32 पॉलीटेक्निक कॉलेज हो जाएंगे।

जिससे सीटों की संख्या भी 3002 और 8014 हो जाएगी। नए खोले जाने वाले संस्थानों में बेगूसराय जिला स्थित राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर इंजीनियरिंग कॉलेज, मधेपुरा जिला स्थित बीपी मंडल इंजीनियरिंग कॉलेज, रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम स्थित शेरशाह इंजीनियरिंग कॉलेज, कटिहार जिला स्थित कटिहार इंजीनियरिंग कॉलेज, सीतामढ़ी जिला स्थित सीतामढी इन्स्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी होंगे।