भारत सरकार ने फेसबुक से डेटा मांगकर इतने प्रतिशत की वृद्धि के साथ प्राप्त किया दूसरा स्थान

भारत सरकार ने फेसबुक से डेटा मांगकर इतने प्रतिशत की वृद्धि के साथ प्राप्त किया दूसरा स्थान

बीते साल सात फीसदी की बढ़तोरी दुनियाभर की सरकारों द्वारा फेसबुक से यूजर्स डाटा मांगने में  हुई है. इस मामले में भारत दूसरे स्थान पर है जबकि अमेरिका पहले स्थान पर है. ये जानकारी फेसबुक की ताजा पारदर्शिता रिपोर्ट में सामने आई है. फेसबुक के वाइस प्रेसिडेंट गाय रोसेन का कहना है कि 2018 के दूसरे हिस्से में सरकारों ने कुल 1.38 लाख यूजर्स का डाटा मांगा था. जबकि साल के पहले ही हिस्से में 1.10 लाख यूजर्स का डाटा मांगा गया. फेसबुक ने सामान्य इस सात फीसदी की बढ़ोतरी को बताया है.

Ecosport और Brezza के अलावा इन कारों में कौन है सबसे सस्ती

अमेरिका और भारत के बाद ब्रिटेन, जर्मनी और फ्रांस का स्थान इस मामले में आता है. रोसेन ने बताया कि स्थानीय नियमों के मुताबिक 2018 के दूसरे हिस्से में 35,972 कंटेंट पर रोक लगाई गई।इससे पहले के समय अंतराल में ये संख्या 15,337 थी. इसमें 135 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. रोसेन ने बताया कि ये बढ़ोतरी इसलिए हुई है क्योंकि दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश के बाद   करीब 16,600 कंटेंट प्लेटफॉर्म से भारत में पेप्सिको को हटाया गया था.

अब व्हाट्सऐप से दर्ज कर पाएंगे FIR, पढ़े रिपोर्ट

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि ये अफवाह फैलाई गई थी कि पेप्सिको के प्रोडक्ट कुरुकुरे में प्लास्टिक है. जिसके बाद पेप्सिको ने सोशल मीडिया से अफवाह फैलाने वाली पोस्ट को हटाने की मांग कोर्ट से की थी.फेसबुक ने कहा है कि जो आंकड़े जारी किए गए थे उनमें इंटरनेट में खराबी सहित अन्य कारण भी थे. 2018 में कई देशों में फेसबुक की सेवाएं बाधित हुई थीं. सबसे अधिक फेसबुक सेवा भारत में अन्य देशों के मुकाबले प्रभावित हुई है.

Xiaomi Redmi 7A हुआ लॉन्च, ग्राहको के लिए जोड़े गए ये खास फीचर

खाने के शौकीनो के लिए Google ने जोड़े ये शानदार ​फीचर

क्यों अमेज़न सीईओ 'जेफ बेजोस' को सामान लौटाने पहुंची महिला