सरकार ने हटाया प्याज का MEP

भारतीय बाजार में प्याज की बढ़ती कीमतों पर ना केवल अंकुश लगा हुआ देखने को मिल रहा है बल्कि साथ ही यह भी देखने को मिल रहा है कि प्याज की कीमतें लगातार नीचे जा रही है, अब इस तरह से कीमतें नीचे जाते हुए देखकर सरकार ने भी इसका न्यूनतम निर्यात मूल्य (MEP) हटा लिया है. इस मामले में बात करते हुए केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय से यह बयान सामने आया है कि प्याज की कीमतों को बाजार में लगातार घटते हुए देखा जा रहा है इसको देखते हुए ही हमारे द्वारा यह फैसला किया गया है.

इस मामले में विदेश व्यापार महानिदेशालय से यह बात सामने आई है कि जितना भी प्याज विदेशों को भेजा जा रहा है उसपर से न्यूनतम निर्यात मूल्य को हटा लिया गया है. और साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि इस फैसले को तत्काल प्रभाव से लागु किया जा रहा है.

बाजार से बाहर आई खबर में यह कहा जा रहा है कि सरकार के इस कदम से किसानों को लाभ होने वाला है. क्योकि प्याज की नई फसल बाजार में आ चुकी है और इसके साथ ही प्याज के भाव कम हो रहे है. गौरतलब है कि कुछ समय पहले जब प्याज की कीमतें बढ़ी थी तो सरकार के द्वारा निर्यात मुख्य को बढ़ा दिया गया था. गौरतलब है कि 11 दिसंबर को ही प्याज के न्यूनतम निर्यात मूल्य को 700 डॉलर प्रति टन से घटकर 400 डॉलर प्रति टन पर देखा गया था.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -