अगर ऐसा हुआ तो देर रात ही दिखाए जा सकेंगे कंडोम के विज्ञापन

Oct 03 2015 02:46 PM
अगर ऐसा हुआ तो देर रात ही दिखाए जा सकेंगे कंडोम के विज्ञापन

नई दिल्ली : सरकार टेलीविजन पर कंडोम के विज्ञापन केवल देर रात ही दिखाए जाने पर विचार कर रही है.कंडोम के विज्ञापनों को लेकर मिल रही प्रतिक्रिया को देखते हुए IB मिनिस्ट्री इसको लेकर कुछ नए नियम बनाने के बारे मे सोच रही है. अगर नए नियम लागू होते हैं तो कंडोम के विज्ञापन हर चैनल पर और किसी भी समय नहीं दिखाए जा सकेंगे.

मिनिस्ट्री के एक अफसर ने बताया कि ''फिलहाल कंडोम के विज्ञापनों पर किसी तरह का बैन नहीं है. उन्हें किसी भी वक्त किसी भी चैनल पर दिखाया जा सकता है. भविष्य में इसमें बदलाव किए जा सकते हैं. और इस बारे में बात भी चल रही है. 

बता दें कि टेलीविजन पर दिखाए जाने वाली विषयवस्तु को 2 भागों में बांटा गया है पहला जनरल (G) और दूसरा रिस्ट्रिक्टेड (R). जनरल विषयवस्तु कभी भी दिखाया जा सकता है. वहीं, रिस्ट्रिक्टेड कैटेगरी में आने वाले विषयवस्तु को देर रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक ही दिखाया जाता है.

बैन क्यों?

नागपुर के एक एडवोकेट ने इस बारे में दावा किया है कि कंडोम के विज्ञापनों का बच्चों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है. एडवोकेट द्वारा मंत्रालय को भेजे गए पत्र में लिखा ''आज से 25 साल पहले जब इस तरह के विज्ञापनों की शुरुआत हुई, तो उस वक्त इसे फैमिली प्लानिंग के कॉन्सेप्ट से लाया गया था. लेकिन आज इस तरह के विज्ञापनों को प्लेजर और फ्री सेक्स को बढ़ावा देने के तौर पर परोसा जा रहा है.'' इस मामले में मंत्रालय के अफसरों का कहना है कि इस तरह के कई पत्र भेजे गए हैं.