बैंकों में नोट बदलवाने वालों के हाथों में लगाई जाएगी स्याही

Nov 15 2016 12:40 PM
बैंकों में नोट बदलवाने वालों के हाथों में लगाई जाएगी स्याही

नई दिल्ली : केंद्रीय वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने कहा है कि बैंकों के बाहर अलग-अलग कतारों का प्रबंध किया गया है। आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने कहा है कि हमारी प्राथमिकता है कि लोगों की मुश्किल हल हो। कैश लेने के लिए लोग बार बार बैंक में पहुंच रहे हैं। इसके लिए अब कैश लेने वालों की अंगुलियों पर निशान लगाया जाएगा। जिस तरह से मतदान के दौरान होता है उसी तरह से अंगुली पर स्याही लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि कैश डिपाॅजिट सिस्टम के तहत जनधन अकाउंट में जमा होने वाले कैश पर ध्यान रखा जाएगा।

पहले जनधन में कुछ लोगों ने ट्रांजिक्शन नहीं किया है ऐसे में अब इन अकाउंट्स पर भी नज़र होगी। वित्त सचिव शक्तिकांत दास ने अपील की है कि किसी और का पैसा अपने जनधन अकाउंट में न डालें। लोग कैश लेने के लिए बार - बार आ रहे हैं। ऐसे में लोगों की तादाद अधिक हो रही है। सरकार द्वारा मंदिरों और ट्रस्ट पर नज़र रखी जा रही है। यदि जनधन खाते में काला धन आया तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि अब उन लोगों को पैसे देने का प्रयास होगा जो कि नोट बदली के बाद पहली बार बैंक पहुंचेंगे अर्थात नए लोगों को पैसे देने की कोशिश की जाएगी। शक्तिकांत दास ने कहा कि देशभर में नमक की कोई कमी नहीं है। नमक कम होने की अफवाह फैलाई गई थी। जब लोग बार - बार नोट बदलवाऐंगे तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि पुराने नोटों को बदलने के लिए टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा। लोगों को अधिक सुविधा देने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कुछ बातों से अनावश्यक हड़कंप मचाया जा रहा है। इस तरह की बात न करने की अपील भी उन्होंने की। उन्होंने कहा कि सरकार पूर्ण प्रक्रिया की समीक्षा कर रही है। हम स्थिति को माॅनिटर कर रहे हैं और जहां सुधार की जरूरत होगी वहां सुधार किया जाएगा। देश के बैंक्स में पर्याप्त कैश है।