डाइनामाइट से ध्वस्त की गई नीरव मोदी की ऐशगाह, 100 करोड़ थी कीमत

मुंबई: पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी के महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में अलीबाग स्थित अवैध बंगले को शुक्रवार सुबह उड़ा दिया गया है. नीरव का यह बंगला किहिम बीच से सटा हुआ था. हीरा कारोबारी के रुपण्या नाम के बंगले को डाइनामाइट से ध्वस्त कर दिया गया. भगोड़े कारोबारी ने इस बंगले को सीआरजेड कानून को तोड़ते हुए बनाया था. 

2018-19 में रिकॉर्ड तोड़ेगा देश का वस्तु निर्यात स्तर

कई वर्षों तक कानूनी पेचीदगियों से गुजरने के बाद शुक्रवार सुबह लगभग 11 बजे इस बंगले को पूरी तरह जमीदोज कर दिया गया. रायगढ़ के जिलाधिकारी विजय सूर्यवंशी के नेतृत्त्व में इंजीनियर्स की टीम ने इस बंगले को नेस्तनाबूद किया है. नीरव मोदी का यह बंगला 33 हजार स्कवायर फीट में बना हुआ था. इसकी कीमत लगभग 100 करोड़ रुपये बतायी जा रही है. रुपण्या को उड़ाने के बाद इस क्षेत्र में बने 160 अन्य बंगले भी गिराए जाएंगे. ये बंगले भी सीआरजेड कानून को तोड़ते हुए समुद्र के किनारे बनाए गए थे. 

डॉलर के मुकाबले रुपये में नजर आई 26 पैसे की कमजोरी

नीरव के रुपण्या बंगले को गिराने के लिए पिछले तीन दिन से डेटोनेटर्स और अन्य विस्फोटक लगाने का काम चल रहा था. बंगले में टीम ने कुल 108 डेटोनेटर्स लगाए थे, इन सभी का तार आपस में जोड़ा गया था. इसके बाद सारे डेटोनेटर्स को एक साथ ब्लास्ट कर दिया गया. कलेक्टर विजय सूर्यवंशी ने जानकारी देते हुए बताया है कि एक साथ ब्लास्ट कर बंगले को ध्वस्त करने का फैसला टीम ने पहले ही कर लिया था.

खबरें और भी:-

HONOR के इन फोन को खरीदने के लिए लगी कतार, मिल रहा छप्पड़फाड़ डिस्काउंट

सेंसेक्स की सुस्त शुरुआत, गंवाई चार दिन की बढ़त

महिला दिवस के मौके पर 44 नारियों को राष्ट्रपति के हाथों मिलेगा सशक्तिकरण पुरस्कार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -