गूगल प्ले स्टोर ने डिलीट किया आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का एप, मसूद अज़हर के जहरीले सन्देश थे मौजूद

नई दिल्ली: पाकिस्तान स्थित और समर्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammad) से संबंधित मोबाइल ऐप को गूगल प्ले स्टोर से डिलीट कर दिया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स में इस एप का खुलासा करने के बाद गूगल प्ले ने यह एक्शन लिया है. इस ऐप के माध्यम से इस्लामिक शिक्षा देने का दावा किया गया था, मगर इसके जरिए मुस्लिम युवाओं को भड़काने का प्रयास किया जा रहा था.

बता दें कि 'अच्छी बातें' ऐप सीधे तौर पर तो जैश से जुड़ा हुआ नहीं था, मगर इसके तार जैश के सरगना मौलाना मसूद अजहर (Maulana Masood Azhar) से जुड़े हुए थे. इस ऐप के डेवलपर्स ने एक ब्लॉग पेज भी तैयार किया था, जो ऐप के डिस्क्रिप्शन पेज से हाइपरलिंक था. इसी पेज पर दो एक्सटर्नल पेज भी लिंक किए गए थे. जिनमे मसूद अजहर के ऑडियो सन्देश थे और उसके छोटे भाई अब्दुल रौफ असगर और उसके खास तल्हा सैफ की रिकॉर्डिंग भी मौजूद थी. एक पेज पर मसूद अजहर की लिखी कई पुस्तकें भी मौजूद थीं. 

मीडिया के लिए इन्फोर्मेशन सिक्योरिटी लैब Innefu Labs ने जब इस एप्लीकेशन का टेक्नीकल एनालिसिस किया था तो पाया था कि इसका सर्वर जर्मनी में हैं. Innefu Labs के को-फाउंडर तरुण विग ने जानकारी देते हुए बताया था कि ये ऐप जर्मनी के कोन्ताबो डेटा के सर्वर से कनेक्ट है.

खत्म हुआ इंतजार! WhatsApp में आ गया चैट ट्रांसफर का ये जरूरी फीचर

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने विज्ञान और प्रौद्योगिकी में ताकत बनाने का किया आह्वान

इस दिन लॉन्च होगा दुनिया का सबसे सस्ता स्मार्टफोन 'JioPhone Next'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -