चाँद ने चाँदनी बिखेरी है

चाँद ने चाँदनी बिखेरी है

चाँद ने चाँदनी बिखेरी है, तारों ने आसमान को सजाया है, कहने को तुम्हें शुभ रात्रि, देखो स्वर्ग से कोई फरिश्ता आया है      शुभ रात्रि

?