व्यवसाय का शुभ:आरम्भ करें -ऐसे स्थलों पर..

Jan 04 2016 08:49 PM
व्यवसाय का शुभ:आरम्भ करें -ऐसे स्थलों पर..

व्यक्ति तो बड़ी ही उत्सुकता के साथ भवन निर्माण कर लेता है पर उस भवन स्थल की भूमि से अनभिज्ञ रह जाते है. पर उन्हें चाहिए की वे भवन निर्माण के पर या भूमि खरीदने से पहले वास्तु शास्त्र के माध्यम से उस स्थान की अच्छी तरह परख कर लें की वंहा निर्माण करना उचित है या नहीं यदि भूमि वास्तु के अनुरूप है तो ऐसी जगह पर घर और व्यवसाय होने पर खुशियां ही बरसती हैं। यहां हम भूमि चयन से जुड़े वास्तु उपाय बता रहे हैं। इन्हें आजमाकर आप अपनी जिंदगी में खुशियों की नई सौगत ला सकते हैं। आपका जीवन सुखद और सम्पनता के साथ व्यतीत होगा . 

वास्तु के अनुसार बताया जा रहा है की -

लाल रंग की भूमि राजनेताओं, सेना और पुलिस के अधिकारियों के लिए शुभ मानी जाती है। पीले रंग की भूमि व्यापारियों, व्यापारिक स्थलों और वित्तीय संस्थानों के लिए शुभ मानी जाती है। कुआं, बोरिंग और भूमिगत टंकी उत्तर, पूर्व में बना सकते हैं। 

जब भी आप भूमि पर कोई निर्माण कार्य कर रहे हो तो इस बात का विशेष ध्यान रखें की नींव डालते वक्त उस स्थान में चींटी, दीमक, अजगर, सांप, हड्डी, कपड़े, राख, लोहा मिलना शुभ नहीं माना जाता है। भूखंड के दक्षिण या पश्चिम में ऊंचे भवन, पहाड़ टीले या पेड़ अशुभ माने जाते हैं।