भारत का बैडमिंटन में स्वर्णिम युग-नंदू नाटेकर

दिल्ली: भारत के पूर्व महान बैडमिंटन खिलाड़ी नंदू नाटेकर ने हालिया  शटलरों के लगातार अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में अच्छे प्रदर्शन की काफी प्रशंसा की. उन्होंने साथ ही एक अन्य महान खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण के विचार का भी समर्थन किया कि देश में यह खेल अब तक के सबसे अच्छे दौर से गुजर रहा है. नाटेकर ने कहा, यह सच है कि यह भारतीय बैडमिंटन का यह सबसे अच्छा युग है. चीन, थाईलैंड और मलेशिया के अलावा  भारतीय लड़कियों को आकर्षण का केंद्र बने हुए देखना काफी अच्छा है, साथ ही पुरूष खिलाड़ी भी सूर्खियों में हैं.

नंदू नाटेकर ने 1954 में तब गैर अधिकारिक आल इंग्लैंड चैम्पियनशिप के क्वार्टरफाइनल में प्रवेश किया था जो इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में उनकी एकमात्र भागीदारी थी. उन्होंने देश के शीर्ष पुरूष खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत को बेहतरीन करार दिया. उन्होंने कहा कि इस खेल ने रफ्तार, प्रतिबद्धता और खिलाडिय़ों के फिटनेस के स्तर में काफी प्रगति की है. 

बता दें कि नंदू नाटेकर ने यहां लीजेंड्स क्लब सम्मान समारोह में बोलते हुए कहा, यह शानदार उपलब्धि है और ये खिलाड़ी प्रशंसा के पात्र हैं दो शीर्ष भारतीय महिला खिलाडिय़ों पीवी सिंधू 2016 ओलंपिक रजत पदकधारी और साइना नेहवाल 2012 ओलम्पिक कांस्य पदकधारी के मजबूत पक्ष की बात करते हुए कहा, सिंधू अपनी लंबाई का पूरा फायदा उठाती है जबकि साइना एक अच्छी फाइटर है.

IPL 2018: रायडू की शतकीय पारी की बदौलत चेन्नई ने हैदराबाद को 8 विकेट से हराया

धोनी के खिलाफ भी ये कारनामा करने में कामयाब रहे धवन और विलियमसन

IPL 2018 LIVE: दूसरे ही ओवर में धोनी ने गवायां धवन का विकेट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -