दो दिन लगातार बढ़त के बाद फिसला सोने का भाव, चांदी अब भी छू रही आसमान

Jul 29 2020 01:33 PM
दो दिन लगातार बढ़त के बाद फिसला सोने का भाव, चांदी अब भी छू रही आसमान

पिछले दो सत्रों में सोने की कीमत में बेहतरीन उछाल के बाद अब आज भारत में सोने की कीमतें कम हो चुकीं हैं. जी दरअसल एमसीएक्स पर अगस्त का सोना वायदा 0.1 फीसदी गिरकर 52,540 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ चुका है. अब बात करें चांदी के बारे में तो इसमें आज भी तेजी दिखाई दे रही है. जी दरअसल एमसीएक्स पर चांदी वायदा 0.18 फीसदी बढ़कर 65,123 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ चुकी है. बीते सत्र में, सोने में 1 फीसदी यानी 550 रुपये की बढ़त हो चुकी है.

वहीं बीते सोमवार को 1,000 रुपये की बढ़त हुई थी. इसके अलावा बीते कल यानी मंगलवार को सोने के दाम में बढ़त हुई लेकिन अब कमी हो चुकी है. जी दरअसल बीते सत्र में चांदी की कीमतें 67,560 रुपये के उच्च स्तर पर पहुंच गई थी लेकिन बाद में इसका दाम 0.4 फीसदी कम हो गया. आपको बता दें कि वैश्विक बाजारों में, हाजिर सोने में थोड़ा बदलाव आ गया है. जी दरअसल इसका दाम 1,957.84 डॉलर प्रति औंस रहा. वहीं निवेशकों द्वारा मुनाफावसूली करने और डॉलर में थोड़ी मजबूती से सोने की कीमतें पिछले सत्र में 1,980.57 डॉलर के उच्च स्तर पर थी.

वहीं अन्य कीमती धातुओं में चांदी 1.1 फीसदी गिरकर 24.31 डॉलर प्रति औंस पर आ गई, जबकि पैलेडियम 1.1 फीसदी फिसलकर 2,259.52 डॉलर पर आ चुका है. इस समय गोल्ड व्यापारी यूएस फेड की दो दिवसीय नीति बैठक की प्रतीक्षा में लगे हुए हैं, जो आज समाप्त हो जाएगी. इस समय भारत में बढ़ते कोरोना वायरस के मामले, वैश्विक अर्थव्यवस्था पर इसका प्रभाव और अधिक प्रोत्साहन उपायों से संभावित मुद्रास्फीति की उम्मीद ने सोने को बढ़ावा दिया है. बीते मंगलवार के डाटा से पता चला कि अमेरिकी उपभोक्ता का विश्वास जुलाई में उम्मीद से अधिक गिरा. वहीं इस बीच सोने में निवेश और बढ़ा है. इसी के साथ दुनिया के सबसे बड़े स्वर्ण-समर्थित एक्सचेंज ट्रेडेड फंड या गोल्ड ईटीएफ की होल्डिंग एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट ने कहा कि 'उसकी होल्डिंग 0.7 फीसदी बढ़कर 1,243.12 टन हो गई.'

स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही: एम्बुलेंस के इंतज़ार में सड़क पर महिला ने दिया बच्चे को जन्म

मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम हुआ शिक्षा मंत्रालय, नई शिक्षा नीति को मिली मंजूरी

बकरीद-रक्षा बंधन पर चलेंगी 3200 अतिरिक्त बसें, इस बात का रखना होगा ध्यान