0.2 अंक से फिसला सोने का तमगा

चांगवोन (दक्षिण कोरिया) : कभी -कभी स्वर्णिम सफलता अचानक कैसे अपना रुख बदल लेती है, इसे दक्षिण कोरिया के चांगवोन में चल रहे आईएसएसएफ विश्व कप में भारत के शहजार रिजवी के खेल से समझा जा सकता है , जो इस बार 10 मीटर एयर पिस्टल सिर्फ 0.2 अंक से सोने का तमगा जीतने से चूक गए और रिजवी को रजत पदक से संतोष करना पड़ा.

बता दें कि इस प्रतियोगिता में रिजवी ने कड़े मुकाबले में 239.8 अंक के साथ रजत पदक अपने नाम किया, जबकि रूस के आर्तेम चेर्नोसोव ने 240 अंक के साथ स्वर्ण पदक हासिल किया.कांस्य पदक बुल्गारिया के समुइल दोनकोव के नाम रहा.उन्होंने 217.1 अंक प्राप्त किए.आज के इस खेल में भारतीय खिलाडियों से बहुत उम्मीदें थी.

गौरतलब है कि इसके पूर्व मार्च में भारत के शूटर्स ने मैक्सिको के ग्वादलहारा में खेली गई शूटिंग वर्ल्डकप में शानदार प्रदर्शन किया था. तब रिजवी ने अपने पहले ही वर्ल्डकप में गोल्ड मेडल जीत कर सबको चौंका दिया था. इस शूटिंग वर्ल्ड कप के पहले दिन भारत ने 3 पदक 1 स्वर्ण और 2 कांस्य जीते थे. इनमें से शहजार रिजवी ने स्वर्ण और जीतू राय और मेहुली घोष ने कांस्य पदक जीता था. जबकि ओमप्रकाश मिथरवाल चौथे क्रम पर रहे थे.

यह भी देखें

खेल मंत्री से मिले पूर्व हॉकी खिलाड़ी

इस शख्स से गले मिलने के लिए युसूफ ने छोड़ी प्रैक्टिस

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -