इस खलनायक की आवाज सुनते ही हर किसी की कांप जाती थी रूह

हिंदी सिनेमा में वैसे तो कई ऐसे अभिनेता हैं जो अपनी शानदार एक्टिंग के कारण चर्चाओं में बने रहते हैं लेकिन अगर बात की जाए खलनायकी के तेवर दिखाने वाले अभिनेता के बारे में तो इसमें सबसे पहले नाम अभिनेता गोगा कपूर का आता है. आपको बता दें आज गोगा कपूर ने आज ही के दिन दुनिया को अलविदा कहा था. गोगा का जन्म 15 दिसंबर 1940 को गुजरांवाला, पाकिस्तान में हुआ था. गोगा ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत 1971 में फिल्म 'ज्वाला' से की थी. पहली ही फिल्म के जरिए उन्होंने बॉलीवुड में बड़ा मुकाम हासिल कर लिया था.

फिल्म इंडस्ट्री में अपना करियर शुरु करने वाले गोगा कपूर पहले थियेटर आर्टिस्ट थे. लेकिन फिल्म के 'ज्वाला' के बाद उन्होंने अपने करियर में कई हिट फिल्में की हैं जैसे 'कयामत से कयामत तक', 'अग्निपथ', 'शहांशाह', 'जिगर', 'मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी', 'राजा को रानी से प्यार हो गया', 'तूफान' और 'पत्थर के फूल' की है. लेकिन कुछ समय बाद उन्होंने फिल्मों में काम करना बंद कर दिया. लेकिन फिर इसके बाद गोगा बॉलीवुड फिल्म एक 'कुंवारी एक कुंवारा' के साथ वापस आ गए, जिसमें उन्होंने फिर से एक नकारात्मक भूमिका निभाई.

ख़ास बात यह है कि इसके बाद, उन्होंने मुख्य रूप से खलनायक भूमिकाओं को चित्रित किया. उन्होंने सफल महाकाव्य धारावाहिक 'महाभारत' में भी अभिनय किया उनकी पिछली फिल्म 'द्वारजा बन्द रको' थी. बता दे कि, 3 मार्च 2011 को लम्बी बिमारी के बाद 70 वर्ष की आयु में गोगा कपूर का निधन हो गया. उनकी तीन बेटियां है. गोगा का असली नाम रविन्द्र कपूर था.

बीमारी के बाद पर्दे पर वापसी को तैयार इरफान खान, इस डायरेक्टर ने किया खुलासा

विराट कोहली संग अफेयर पर एक्ट्रेस ने बताया पूरा सच, बांधे तारीफों के पुल

बॉलीवुड ने इतने खास अंदाज़ में किया विंग कमांडर अभिनंदन का स्वागत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -