अपनी विस्फोटक पारी के लिए कुछ ऐसा बोल गये ग्लैन मैक्सवेल

विशाखापट्टनम : ऑस्ट्रेलिया ने भारत को आखिरी ओवर की आखिरी गेंद में हराया। तीन विकेट की इस रोमांचक जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने 2 मैच की टी-20 सीरीज में 1-0 से आगे हो गई। ऑस्ट्रेलिया की जीत में ग्लैन मैक्सवेल ने अहम किरदार निभाया। उन्होंने 43 गेंदों पर 56 रन की शानदार पारी खेली। तीसरे विकेट के लिए सलामी बल्लेबाज डार्सी शॉर्ट के साथ 84 रन की अहम साझेदारी की। मैक्सवेल के आउट होते ही मैच टीम इंडिया की पकड़ में आता दिख रहा था, हालांकि अंत में मैक्सवेल की यह पारी बेकार नहीं गई। 

बारिश की भेंट चढ़ा इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच होने वाला तीसरा वन-डे मुकाबला

चहल ने किया था चलता 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मैच के बाद मैक्सवेल ने बताया कि अपनी पारी के दौरान उन्होंने किस गेंदबाज को टारगेट करने की कोशिश की। मैक्सवेल ने कहा, 'मैच के दौरान क्रुणाल पांडया और जसप्रीत बुमराह दोनों शानदार गेंदबाजी कर रहे थे और दोनों का सामना करना काफी कठिन था, इसलिए मैंने युजवेंद्र चहल को टारगेट करने की कोशिश की। बता दें मैक्सवेल को चहल ने ही आउट किया था। इस बारे में उन्होंने कहा कि, 'मैं उन्हें एक और छक्का मारने की कोशिश कर रहा था, लेकिन खराब शॉट खेल बैठा। मैं अगले मैच में सुधार करने की कोशिश करुंगा।

मंधाना के अर्धशतक की बदौलत भारतीय महिला टीम ने इंग्‍लैंड पर हासिल की शानदार जीत

यह बोले ग्लेन मैक्सवेल 

जानकारी के अनुसार विस्फोटक बल्लेबाज मैक्सवेल ने अपने बल्लेबाजी क्रम को लेकर कहा कि, 'मैं नंबर 4 पर बल्लेबाजी करते हुए सहज महसूस करता हूं और ये एक ऐसा नंबर है जहां मैंने अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया है और उम्मीद करता हूं कि टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करता रहूंगा।' मैक्सवेल ने पैट कमिंस और रिचर्डसन की भी तारीफ की। अंत में इन दोनों ने ही बीच मझधार में अटकी ऑस्ट्रेलिया की नाव को पार लगाया था। 

INDvAUS: धोनी ने बनाया बेहद ख़राब रिकॉर्ड, सोशल मीडिया पर जमकर उड़ा मज़ाक

इन कंपनियों की कारों पर मिल रही 60 हजार रु तक की छूट, जितनी जल्दी हो उठाएं ऑफर का लाभ

हीरो इंडियन सुपर लीग : दिल्ली डायनामोज ने एफसी पुणे को दी करारी शिकस्त

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -