पिता की डांट से नाराज़ छात्रा ने लगाई फांसी

भिलाई: माता-पिता की डांट से नाराज़ होकर स्कूली विद्यार्थियों के ख़ुदकुशी करने का एक और मामला छत्तीसगढ़ से सामने आया है, लेकिन यहाँ मामला कम नंबर का नहीं है, बल्कि स्कूल से लेट आने का है. छत्तीसगढ़ के भिलाई में एक छात्रा ने महज इसलिए फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली क्योंकि एक दिन स्कूल से लेट हो जाने पर चिंतित परिजनों ने जब छात्रा को फटकार लगाई, तो छात्रा इतनी नाराज़ हो गई कि उसने पंखे से लटक कर जान दे दी.

घटना की सुचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा, पुलिस ने बताया है कि शव के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. परिजनों ने पुलिस को बताया कि उनकी बच्ची एमजीएम स्कूल में 10वीं में पढ़ती थी. घटना के दिन वह स्कूल से देर से लौटी थी. देर से लौटने पर पिता ने उसे फटकार लगा दी. मां ने भी नाराजगी जाहिर करते हुए उससे बातचीत नहीं की.

परिजनों ने पुलिस को बताया कि लड़कियों के खिलाफ बढ़ रहे अपराधों को देखते हुए उन्होंने अपनी बच्ची को स्कूल से घर जल्दी आने कि हिदायत दी थी, लेकिन एक दिन लेट हो जाने पर उन्हें चिंता हुई और जब पिता ने अपनी बेटी से देरी की वजह पूछी तो वह कोई ठोस कारण नहीं बता सकी. इस पर पिता ने उसे जमकर फटकारा,  लेकिन उन्हें नहीं पता पता था कि उनकी चिंता ही उनकी बेटी की चिता का कारण बन जाएगी. छात्रा की मां ने बताया कि उनकी बेटी पढ़ने लिखने में होशियार थी. शांत स्वभाव के चलते घर में सभी उसका खूब ध्यान रखते थे. लेकिन मामूली डांट डपट से वो इतनी नाराज हो जाएगी ऐसा उन्होंने कभी नहीं सोचा था. 

छत्तीसगढ़ हुआ कैशलेस, आरबीआई से मांगे 500 करोड़

सुकमा: नक्सलियों से मुठभेड़ में एक जवान शहीद

नक्सलियों ने की बीजेपी नेता की हत्या

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -