बड़ी बहन के लिए किया त्याग, दोनों एक ही घर में ब्याही

श्योपुर: मध्यप्रदेश के श्योपुर में एक अनूठा मामला सामने आया है। इसमें प्रेम की मिसाल है तो सामाजिकता की पहल और परिवार की समझ-बूझ है. दरअसल जिले के सोनीपुरा गांव में दो बहनों के प्यार की एक मिसाल देखने को मिली. जिसमें दिव्यांग बड़ी बहन के लिए छोटी बहन ने पति के प्यार को बांट लिया. दरअसल दो बहनों में बड़ी बहन दिव्यांग थी मगर छोटी बहन अपनी शादी के लिए तैयार नहीं हुई|

ऐसे में युवक बड़ी बहन को भी अपनाने के लिए तैयार हो गया. एक ही मंडप के नीचे दोनों सगी बहनों ने एक युवक से विवाह कर लिया. सप्ताहभर पहले ही दोनों बहनें पग फेरे की रस्म के लिए अपने मायके पहुंची, अब दोनों ही खुश हैं. इनमें भभूति बड़ी है. उसके जन्म से दोनों ही हाथ ठीक नहीं है।

भभूति को माता पिता ने कभी भी कोई कमी महसूस नहीं होने दी. छोटी बहन का नाम कविता है. उसके लिए कई जगहों से रिश्ते आने लगे. मगर कविता ने अपनी बहन के लिए रिश्ते ठुकराए. अब राजस्थान के पहाड़ी गांव के निवासी नीमा आदिवासी का रिश्ता आया तो उसने शर्त के तहत हां भर दी। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -