एक छोटी सी मुलाक़ात बन गई लड़की की बर्बादी का सबब

हाल ही में अपराध का एक मामला बलिया के चितबड़ागांव थाना क्षेत्र से सामने आया है. इस मामले में यहाँ के स्थानीय कस्बे में एक खाली मकान में गाजीपुर जनपद की रहने वाली युवती से सामूहिक दुष्कर्म किया गया है. इस मामले को 30 अगस्त की रात को अंजाम दिया गया है. वहीं बीते रविवार की सुबह पुलिस ने तीनों नामजद आरोपितों को गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया है. इस मामले में गाजीपुर जिले के करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र की युवती पिछले साल दशहरा के मेले में बलिया के चितबड़ागांव कस्बे में आई थी और उसी दौरान कस्बा के वार्ड नम्बर 14 राकी मोहल्ला निवासी मोहम्मद आबिद उर्फ बिट्टू से उसकी जान पहचान हुई.

इस मामले में आगे पुलिस ने कहा दोनों के बीच मोबाइल नंबरों का आदान-प्रदान हुआ था और उसके बाद से दोनों आपस में लगातार सम्पर्क में थे. वहीं युवती ने पुलिस को दी गई शिकायत में अब यह आरोप लगाया है कि ''30 अगस्त को उसे मोहम्मद आबिद पुत्र शहादत ने मोबाइल फोन के जरिए चितबड़ागांव बुलाया. वह पहुंची तो उसे कस्बे के ही आजाद नगर स्थित एक खाली मकान में ले गया. जहां पहले से ही आशुतोष गोंड पुत्र विजय गोंड निवासी आजाद नगर थाना चितबड़ागांव व मन्नू गोंद पुत्र मदन गोंड निवासी टिकादेवरी थाना चितबड़ागांव मौजूद थे. तीनों ने उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद तीनों उसे अपने साथ लेकर जा रहे थे. तभी रास्ते में शाहपुर के पास डायल 100 पुलिस की गाड़ी दिखी.

जिसके बाद तीनों ने युवती को वहीं छोड़ दिया और भाग गए.'' इस मामले में युवती ने आगे बताया कि ''मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने उसका नाम व पता पूछा और उसके बाद युवती के माता-पिता आये.'' वहीं इस मामले में मिली जानकारी के मुताबिक पीड़िता अपने परिजनों के साथ शनिवार को चितबड़ागांव थाने पहुंची और वहां पुलिस ने उसकी दी गई शिकायत को आधार मानते हुए मोहम्मद आबिद, आशुतोष गोंड व मन्नू गोंड के खिलाफ नामजद मुकदमा दायर कर तीनो को हिरासत में ले लिया.

छोटे छोटे बच्चों से चोरी करवाता था मोबाइल, GRP ने किया गिरोह का पर्दाफाश

हापुड़ में दोहरे हत्याकांड से सनसनी, रिटायर्ड JE और उनकी पत्नी की घर में घुसकर हत्या

एक ही मोहल्ले के 10 लड़कों की दुल्हन बनने वाली थी लड़की, फिर जो हुआ उसने उड़ा दिए सबके होश

Most Popular

- Sponsored Advert -