परिवार वालों से माफ़ी मांगते हुए छात्रा ने खुद को उतारा मौत के घाट, सुसाइड नोट में सामने आया चौकाने वाला राज

Oct 21 2020 01:28 PM
परिवार वालों से माफ़ी मांगते हुए छात्रा ने खुद को उतारा मौत के घाट, सुसाइड नोट में सामने आया चौकाने वाला राज

नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी दिल्ली के भजनपुरा क्षेत्र में एक युवक के पीछा करने से परेशान होकर बीएड की छात्रा ने फांसी लगा ली है। परिजनों ने उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया मगर एक हप्ते तक जिंदगी से जंग लड़ने के उपरांत सोमवार को उसकी जान चली गई। जांच के दौरान पुलिस को मृतका के घर से एक सुसाइड नोट पाया गया है। उसमें लोनी के एक युवक द्वारा पीछा करने और परिजनों की बेइज्जती करने की बात लिखी है। परिजनों के बयान और सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने सुसाइड करने के लिए उकसाने का केस दर्ज कर अपराधों की तलाश शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक आरोपी हमेशा पीछा कर उसे परेशान करता था। बीते 9 अगस्त को अपराधी उसका पीछा करते हुए घर तक आ गया था। इसके बाद लोगों ने उसकी पिटाई करने लगे। उस दिन खूब हंगामा शुरू हो गया। जिसके कारण से छात्रा के परिजनों की खूब बदनामी हुई थी। इतना सब होने के बाद भी अपराधी पीड़िता को प्रताड़ित कर रहा था। 12 अक्टूबर को छात्रा ने अपने कमरे में फांसी लगा ली। परिजनों ने उसे स्वामी दयानंद हॉस्पिटल में भर्ती कराया, जहां से उसे आरएमएल हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया।

लेकिन उपचार के दौरान सोमवार को उसकी मृत्यु हो गई। पुलिस ने कमरे की जांच की तो एक डायरी में सुसाइड नोट  पाया गया। नोट में छात्रा ने परिवार से माफी मांगते हुए अपराधी को सख्त से सख्त सजा दिलवाने की बात की। इस केस पर जिला पुलिस उपायुक्त वेद प्रकाश सूर्या ने बताया कि छानबीन के उपरांत आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर आरोपी युवक की तलाश लगातार कर रहे है।

सीएम योगी ने पुलिस वालों के लिए बांधे तारीफों के पूल, कहा- कोविड-19 से निपटने में निभाई...

यूपी में कोरोना के केस में आई गिरवाट, बढ़ रहे है रिकवरी रेट

अधिकांश किसानों को कृषि कानूनों के बारे में नहीं है कोई जानकारी: सर्वेक्षण