गिरिराज सिंह बोले, हरे झंडे पर लगे प्रतिबन्ध, फैलते हैं नफरत

गिरिराज सिंह बोले, हरे झंडे पर लगे प्रतिबन्ध, फैलते हैं नफरत

बेगूसराय:  केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता गिरिराज सिंह ने मंगलवार को कहा है कि निर्वाचन आयोग को हरे झंडों के इस्तेमाल को प्रतिबंधित कर देना चाहिए. इस रंग के झंडों को अक्सर मुस्लिमों से सम्बंधित सियासी और धार्मिक निकायों से जोड़ कर देखा जाता है. गिरिराज ने आरोप लगाया है कि ये झंडे घृणा फैलाते हैं और पाकिस्तान में प्रयोग होने की धारणा बनाते हैं. 

हिंदुत्व को लेकर अपने कट्टर विचारों के लिए पहचाने जाने वाले गिरिराज ने कहा है कि इस लोकसभा क्षेत्र से उनकी लड़ाई उस ‘गिरोह’ के खिलाफ है जो भारत के ‘टुकड़े’ करने के लिए कार्य कर रहा है. उन्होंने इस बात पर बल दिया कि वे सांस्कृतिक राष्ट्रवाद और विकास के एजेंडा पर चुनावी मैदान में उतरे हैं. भाजपा पार्टी के नेता ने मीडिया को दिए गए साक्षात्कार में कहा कि भाजपा नीत एनडीए, बिहार की लोकसभा की 40 सीटों में से 2014 में जीती गई 31 सीटों के आंकड़ों में सुधर करेगी और पीएम नरेंद्र मोदी खुद प्रत्येक सीट पर गठबंधन के प्रत्याशी हैं और इसके सभी उम्मीदवार “उनके ही प्रतीक’’ हैं.  

आपको बता दें कि बेगूसराय लोकसभा सीट पर त्रिकोणीय मुकाबला होने की उम्मीद जताई जा रही है, जहां गिरिराज सिंह का सामना राजद के तनवीर हसन और भाकपा के युवा नेता और जेएनयू के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार से है. उन्होंने 2014 में 1.4 लाख मतों के भारी अंतर से बिहार की नवादा लोकसभा सीट से जीत दर्ज की थी लेकिन इस बार उन्हें बेगूसराय से उम्मीदवार बनाया गया है. 

खबरें और भी:-

दीदी के गढ़ में गरजे पीएम मोदी, कहा- भ्रष्टाचार के मामले में कांग्रेस को टक्कर दे रही तृणमूल

यशवंत सिन्हा बोले, मेरी इच्छा- ममता बनर्जी बनें देश की पीएम

जब सनातन संस्कृति पर हमला होता है तो संतों को आगे आना पड़ता है : साध्वी प्रज्ञा