बाघ की मौत के मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिए उच्चस्तरीय जांच के आदेश

Jun 15 2019 01:09 PM
बाघ की मौत के मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिए उच्चस्तरीय जांच के आदेश

अलवर : सरिस्का में 6 दिन पहले बाघ एसटी-16 की ट्रंकुलाइज किए जाने के दौरान हुई मौत के मामले में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उच्चस्तरीय प्रशासनिक जांच के आदेश दिए हैं। सहकारिता विभाग के प्रमुख शासन सचिव अभय कुमार काे जांच का जिम्मा दिया गया है। बता दें इससे पहले भी राज्य में इस तरह की घटना हो चुकी है.

सीएम रघुवर दास ने की सरायकेला में हुए नक्सली हमले की कड़ी निंदा, बोले- पुलिसकर्मियों की शहादत बेकार नहीं जाएगी

इस तरह हुई थी मौत 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट में कहा कि 8 जून को हुई बाघ की मौत गंभीर है। इसकी जांच करने और लापरवाह कार्मिकों व अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करने के आदेश दिए गए हैं। बता दें कि 8 जून को बाघ को ट्रंकुलाइज किया गया था। इसके कुछ देर बाद बाघ की मौत हो गई। आराेप है कि बाघ को ट्रंकुलाइज करने के लिए ओवरडोज दे दिया गया, जिससे उसने दम तोड़ा। 

शिरडी साईं बाबा मंदिर के दानपात्र में जमा सिक्कों को लेने से बैंको का इनकार

जानकारी के मुताबिक हालांकि, वन विभाग ने कहा था कि माैत हीट स्ट्राॅक से हुई। जांच अधिकारी से रिपाेर्ट में सरिस्का क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था के आंकलन, प्रबंधन व्यवस्था एवं विभिन्न सुविधाओं के सुधार पर सुझाव भी देने काे कहा गया है।

अब भी जारी है डॉक्टरों का देशव्यापी विरोध-प्रदर्शन, 500 से अधिक डॉक्टरों ने दिया इस्तीफा

राजधानी में गर्मी ने कड़े किये अपने तेवर, आगे ऐसा बना रहेगा मौसम

देश में जारी है गर्मी का कहर, अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत