भाजपा और कांग्रेस में छिड़ी जुबानी जंग, प्रियंका वाड्रा ने कही यह बात

उत्तरप्रदेश की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने जहां कांग्रेस को बसों की फर्जी सूची पर घेरने की तैयारी कर ली है, वहीं कांग्रेस का बार-बार दावा है कि वह सिर्फ सेवाभाव से बसें चलाना चाहती है. पार्टी महासचिव प्रियंका वाड्रा ने कांग्रेस सोशल मीडिया हैंडल से वीडियो जारी कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि चाहें तो अपने झंडे और बैनर लगा लें लेकिन, बसें चलने दें. हालांकि आरोप-प्रत्यारोप के इस दौर के बीच ही बुधवार शाम यूपी सीमा से बसों की वापसी शुरू हो गई.

लॉकडाउन-4 में और सख्त हुई इंदौर पुलिस, नियम तोड़ने वालों को ऐसे सीखा रही सबक

इसके अलावा कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका वाड्रा ने इस वक्त राजनीति न करने की अपील करते हुए कहा कि यदि बसें चलाने की अनुमति मिलती तो अब तक 92 हजार गरीब अपने घर पहुंच चुके होते. उन्होंने कहा कि दूसरे राज्यों से आ रहे श्रमिक-कामगार पैदल ही इतनी धूप में अपने घरों को निकले हैं. वे बहुत परेशान हैं. हम सबको अपनी जिम्मेदारी समझनी पड़ेगी. यह राजनीति का समय नहीं है. कांग्रेस अभी तक 67 लाख लोगों की मदद कर चुकी है. उनमें 60 लाख उत्तरप्रदेश के और सात लाख जो प्रदेश से बाहर फंसे हुए थे. उन्हें खाना, राशन की जरूरत थी.

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा गिरफ्तार, राजघाट पर दे रहे थे धरना

अपने बयान में आगे कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा ने कहा कि हमारी भावना शुरू से सकारात्मक रही है. सकारात्मक रूप से हमने मुख्यमंत्री को सुझाव दिए कि आपको ठीक लगे तो अमल करें. जहां-जहां हमें उनके काम अच्छे लगे, हमने तारीफ भी की, स्वागत भी किया. जब कई सड़क हादसे हुए, हमने देखा कि यूपी रोडवेज की बसें सक्रिय नही हैं तो मुख्यमंत्री को चिट्ठी लिखी कि हम 1000 बसें उपलब्ध करवाएंगे. इस लेकर राजनीति शुरू हो गई. लिस्ट गलत बता रहे हैं, चालक-परिचालक का नाम गलत है. मैं सरकार पर कोई सवाल नहीं करना चाहती. हमने कहा था कि अगर कुछ चालक-परिचालक का नाम, गाड़यों की गलत लिस्टिंग हुई है तो आप भेज दीजिए, हम दूसरी लिस्ट भेज देंगे. 

प्रवासी मजदूरों के लिए महिला पुलिस अधिकारी ने किया ऐसा काम

भाले से पत्नी की हत्या करने वाला पति हुआ गिरफ्तार

इंदौर: मोहम्मद यूनुस ने तोड़ा लॉकडाउन, गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस पर लोगों ने बरसाए पत्थर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -