डब्ल्यूआरसी सफारी रैली से बाहर हुए गौरव गिल

इंडिया के अर्जुन पुरस्कार विजेता चालक गौरव गिल को विश्व रैली चैम्पियनशिप (WRC) सफारी रैली कीनिया में शानदार शुरुआत के बाद इंजन में खराबी की वजह से बाहर होना पड़ा। तीन बार के एशिया पैसिफिक रैली चैम्पियन और 7 बार इंडियन राष्ट्रीय रैली चैम्पियनशिप जीतने वाले गिल का वाहन धूल में फंस गया जिससे उनका इंजन खराब हो गया। गिल ने WRC-दो के पहले और तीसरे चरण में जीत हासिल की और उन्हें यहां खिताब का प्रबल दावेदार कहा जा रहा है। इस रैली को दुनिया की सबसे चुनौतीपूर्ण रैलियों में से एक कहा जा रहा है। गिल ने बोला है कि मैं इस रैली से बाहर होने पर निराश हूं, लेकिन अन्य आयोजनों की तरह मेरे लिए यह शानदार अनुभव रहा है।

हम दुख की इस घड़ी में उसके परिवार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं। इस रेस के आयोजनकर्ताओं ने कहा कि इस हादसे को बताने करने के लिए कोई भी शब्द काफी नहीं है। ब्योर्ग रेस के वक्त हादसे का शिकार होकर हमारे बीच से चले गए। उनके परिवार, दोस्तों, टीम और पूरे साइक्लिंग समुदाय के साथ हमारी संवेदनाएं हैं। ब्योर्ग की यह व्यवसायिक लेवल पर दूसरी ही रेस थी। उन्हें इस वर्ष जून में सबसे उदीयमान युवा खिलाड़ी चुना गया था। वर्ष 2015 में वह बेल्जियम नेशनल जूनियर चैंपियन बने थे।

इस रेस में ग्लेन वान दूसरे और गूलेरट्स तीसरे रैंक पर रहे थे। ब्योर्ग ने 2016 में Ronde de l'Isard के पहले राउंड में जीत दर्ज कर सभी को चौंका दिया था। लेकिन लास्ट स्टेज में रेस मैनेजमेंट की ओर से उन्हें गलत दिशा में भेज दिया गया। बाद में ज्यूरी ने इस मिसटेक को स्वीकार किया और इसी के साथ यानिक और लुइस वेरवेके के बाद ये रेस जीतने वाले ब्योर्ग बेल्जियम के तीसरे खिलाड़ी बन गए।

Neeraj Chopra को सत्र के पहले इस प्रतियोगिता में मिलेगी कड़ी चुनौती

भारतीय अंडर-17 महिला फुटबॉल टीम को चिली ने दी करारी मात

टीम इंडिया को लगा बड़ा झटका, कोरोना पॉजिटिव हुए रोहित शर्मा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -