बाबूलाल गौर का अनुरोध, भोपाल को बनाया जाए उपराजधानी

Feb 19 2016 08:10 AM
बाबूलाल गौर का अनुरोध, भोपाल को बनाया जाए उपराजधानी

भोपाल: देश में किसानो द्वारा बढती आत्महत्या के खिलाफ और कृषि के विकास के सम्बन्ध में 18 फरवरी को शेरपुर(सीहोर) में एक विशाल किसान सम्मलेन आयोजित किया गया जिसमे देश के कई नेताओ सहित प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी शामिल हुए। प्रधानमंत्री इस म.प्र. दौरे के दौरान जब भोपाल के स्टेट हैंगर पर पहुचे तब उनके स्वागत के लिए मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान, राज्यपाल रामनरेश यादव के साथ गृहमंत्री बाबूलाल गौर वहीं मौजूद थे उनके स्वागत के दौरान ही बाबूलाल गौर ने उन्हें अपना ज्ञापन सौप दिया।

उप राजधानी बनाने के लिए किया निवेदन 
बाबूलाल गौर द्वारा दिए गए इस ज्ञापन में उन्होंने पीएम से भोपाल की सुन्दरता और सुविधा का हावाला देते हुए दर्ख्वास्त की है कि भोपाल को उपराजधानी बनाया जाए और इसका कारण उन्होंने दिल्ली को असुरक्षित होना तथा भोपाल को सामरिक दृष्टि से सुरक्षित होना बताया है। इस ज्ञापन ने तो प्रधानमंत्री के सामने दिल्ली की सुरक्षा पर ही सवाल खड़े कर दिए।

विपक्ष ने किया जमकर विरोध 
इस किसान सम्मान रैली का विपक्ष पार्टी कांग्रेस ने काले झंडे और काले गुब्बारे छोड़ते हुए जमकर विरोध किया प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे कुणाल चौधरी ने विरोध करते हुए अपना वयान दिया कि म.प्र.में सैकड़ो किसानों ने आत्महत्या की लेकिन उसके विपरीत मोदी जी अपने सम्मान का खेल खेल रहे हैं। प्रदेश का किसान मातम मना रहा है और सरकार उसे भटकाने की कोशिश कर रही है। हम ऐसी किसान सम्मान रैली की विरोध करते हैं। इनके साथ ही कई जगहों पर आप पार्टी के कार्यकर्ताओ ने भी जमकर विरोध किया।