कोरोना में गणेश चतुर्थी सेलिब्रेशन, मुंबई में धारा 144 और मास्क अनिवार्य

मुंबई: कोरोना के साये के बीच में आज गणेश चतुर्थी का पर्व मनाया जा रहा है। ऐसे में कोरोना काल में गणेश चतुर्थी का सेलिब्रेशन काफी मुश्किल है क्योंकि हर साल जैसी धूम कोरोना काल में नहीं है। गणेश उत्सव अगले 10 दिनों तक महाराष्ट्र के साथ पूरे देश में मनाया जाएगा। हालाँकि कोरोना के बढ़ते केस के चलते इस बार का जश्न फीका रहने वाला है। आप सभी जानते ही होंगे मुंबई समेत महाराष्ट्र के कई हिस्सों में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। इसी के चलते अब तो राज्य में एक्टिव केस की संख्या 50 हज़ार के पार पहुंच गई है।

वहीँ मुंबई में बीते गुरुवार को 457 नए मामले सामने आए और यहां सात हफ्तों के बाद सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। इन सभी को देखते हुए सरकार ने इस बार गणेश उत्सव पर कई तरह की पाबंदियां लगा रखी हैं। आप सभी को बता दें कि मुंबई में 10 सितंबर से 19 सितंबर के बीच गणेश उत्सव के दौरान धारा 144 लागू कर दिया है। वहीँ इस दौरान शहर में किसी भी प्रकार का जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी जाएगी और श्रद्धालुओं को गणेश पंडालों में जाने की भी इजाजत नहीं होगी।

इसके अलावा सार्वजनिक पंडालों में मूर्ति लाने और विसर्जन के लिए ले जाते समय 10 से अधिक लोग मौजूद नहीं होंगे। इसी के साथ घर में मूर्ति लाने और विसर्जन के लिए ले जाते समय अधिकतम पांच लोग ही मौजूद रहेंगे। वहीँ सभी श्रद्धालुओं को अनिवार्य रूप से मास्क पहनना होगा और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। वहीँ मास्क लगाए बिना किसी को घर से निकलने की इजाजत भी नहीं है।

महाराष्ट्र: धूम -धाम से नहीं मनेगा गणपति उत्सव, यहाँ जानिए गाइडलाइन

गणेश चतुर्थी पर इन संदेशों और तस्वीरों के साथ दें अपनों को बधाई

वायरल वीडियो: जब पानी में चलने लगी मूर्ति, देखने वालों के उड़े होश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -