भाजपा की आंधी को गांधी ने रोका

भाजपा की आंधी को गांधी ने रोका

एटा। एक ओर जहां गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी कांग्रेस के लिए, दमदार चुनाव प्रचार करने में लगे हैं वहीं दूसरी ओर, उत्तरप्रदेश में संपन्न हुए निकाय चुनाव में मीरा गांधी ने अपनी जीत का प्रभावी परचम लहराया। जी हां, उत्तरप्रदेश के एटा में नगर पालिका सीट से निर्दलीय प्रत्याशी मीरा गांधी ने भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी शालिनी गुप्ता पर जीत दर्ज की।

एटा सदर सीट, महिला वर्ग के लिए, आरक्षित थी, ऐसे में चेयरमैन राकेश गांधी ने अपनी पत्नी को बतौर प्रत्याशी चुनाव में खड़ा किया। हालांकि मीरा को राकेश गांधी द्वारा किए गए विकास कार्यों का प्रतिफल मिला है। लोगों का मानना है कि, राकेश गांधी ने जो कार्य किए हैं, उसके कारण मीरा गांधी को मत दिए गए हैं।

हमें उम्मीद है कि ,मीरा गांधी भी क्षेत्र के विकास और यहां पर सुविधाऐं उपलब्ध करवाने के लिए, बेहतर कार्य करेगी। मीरा गांधी ने भी कहा है कि, वे पति राकेश गांधी द्वारा किए गए कार्यों से प्रेरणा लेकर कार्य करेंगी और उनके विकास कार्यों को आगे बढ़ाऐंगी।

मीरा गांधी ने 15365 मत अर्जित किए हैं उनका निकटतम मुकाबला भारतीय जनता पार्टी की शालिनी गुप्ता से हुआ था। शालिनी गुप्ता को 15198 मत प्राप्त हुए थे। एटा समाजवादी पार्टी का गढ़ माना जाता है लेकिन, इस गढ़ में अन्य दलों ने सेंधमारी कर ली है। यहां के सांसद हैं राजवीर सिंह जो कि, पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के पुत्र हैं। इतना ही नहीं भारतीय जनता पार्टी ने ही एटा विधानसभा की सीट जीती है।

भरी सभा में शहीद की बेटी का अपमान

नीतीश ने कसा लालू पर ऐसा तंज

पत्नी को टिकट नहीं मिला तो बहू के लिए कर रहे प्रचार

अमित शाह के धर्म पर राज बब्बर की टिप्पणी