हरिद्वार-ऋषिकेश की निशुल्क तीर्थ यात्रा का मिलेगा लाभ

Apr 20 2015 03:58 PM
हरिद्वार-ऋषिकेश की निशुल्क तीर्थ यात्रा का मिलेगा लाभ
लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के वरिष्ठ एवं मूल नागरिकों को नौ मार्च से हरिद्वार एवं ऋषिकेश की निरूशुल्क तीर्थयात्रा कराने का निर्णय लिया गया है। चयनित यात्रियों को एक विशेष रेलगाड़ी से ले जाया जाएगा। इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज़्म काॅर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) द्वारा इस योजना के लिए रेलवे से चार्टर किया जाएगा। चार्टर के माध्यम से ही यात्रियों को लखनऊ से हरिद्वार तक की यात्रा कराई जायेगी। इस यात्रा के लिए चयनित यात्रियों को यात्रा के दौरान बजट श्रेणी की सुविधाएं दी जाएंगी। यात्रियों को यात्रा के दौरान ट्रैवल किट उपलब्ध कराई जाएगी। यात्रियों द्वारा अपने निवास स्थान से लखनऊ रेलवे स्टेशन तक आने जाने की व्यवस्था स्वयं करनी होगी।

धर्मार्थ कार्य के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल ने बताया कि तीर्थ यात्रियों का चयन जन्मतिथि के आधार पर वरिष्ठता का निर्धारण करते हुए वरिष्ठतम नागरिकों को वरीयता देकर किया जाएगा।यह मिलेगा यात्रियों को यात्रियों को प्रतिदिन सुबह की चाय, सुबह का नाश्ता, दोपहर का खाना, शाम की चाय एवं रात का खाना (सिर्फ ट्रेन में) दिया जायेगा। यात्रियों को सिर्फ शाकाहारी भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।सहगल ने बताया कि ट्रेन में कुल 1044 यात्रियों के लिये बर्थ आरक्षित रहेंगे। उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान आईआरसीटीसी द्वारा प्रत्येक यात्री का यात्रा दुर्घटना बीमा भी कराया जायेगा।उन्होंने बताया कि यह सुविधा किसी भी वरिष्ठ नागरिक को जीवनकाल में एक बार ही मिलेगी। उन्होंने बताया कि इच्छुक यात्री एक फरवरी तक अपने जनपद के जिलाधिकारी को अपना आवेदन पत्र प्रस्तुत कर सकते हैं। चयनित यात्रियों को उनके चयन एवं संबंधित सूचनायें जिलाधिकारियों द्वारा उपलब्ध कराई जायेंगी।

सहगल ने बताया कि यदि किसी वरिष्ठ आवेदक की पत्नी अथवा पति की अवस्था एवं (निकट संबंधी जैसे पुत्री-पुत्र इत्यादि) निर्धारित वरिष्ठ अवस्था से कम हो तो इस संबंध में नियमों को शिथिल करते हुए पति-पत्नी एक साथ यात्रा कर सकते हैं अथवा निकट संबंधी को साथ में ले जा सकते हैं। इन लोगों को भी विभाग द्वारा निरूशुल्क यात्रा कराई जायेगी।ठहरने की होगी व्यवस्था हरिद्वार में साफ एवं स्वच्छ धर्मशाला, होटल साझेदारी के आधार पर उपलब्ध करायी जायेगी। गाड़ी के प्रत्येक कोच में एक टूर सहचर की भी व्यवस्था रहेगी, जो यात्रियों की देखभाल, उनकी समस्याओं का तुरंत निस्तारण, सूचना एवं अन्य व्यवस्थायें सुनिश्चित करेगा।