इन 2 शहरों में शुरू हुआ G-20 शिखर सम्मेलन, जानिए क्या होता है ये?

भोपालः मध्य प्रदेश के 2 शहरों इंदौर एवं भोपाल में होने वाली जी-20 समूह की बैठकों के चलते अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभागियों के प्रवास पर उनके सत्कार, आवास, सुरक्षा-व्यवस्था के लिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में सरकार ने समन्वय समिति का गठन किया गया। इसके लिए प्रमुख सचिव पर्यटन को सदस्य सचिव एवं नोडल अफसर बनाया गया है। बता दें कि 01 दिसंबर 2022 से 30 नवंबर 2023 तक की अवधि में भारत जी-20 समूह की अध्यक्षता करेगा। इस अवधि में देश के तमाम जगहों पर 190 से ज्यादा बैठकों का आयोजन किया जाना है। 

मध्य प्रदेश के इंदौर एवं भोपाल में होने वाली जी-20 समूह की बैठकों चलते अंतर्राष्ट्रीय प्रतिभागियों के प्रवास को लेकर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में समन्वय समिति गठन किया गया। समन्वय समिति में अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन, गृह, प्रमुख सचिव औद्योगिक नीति और प्रोत्साहन, मुख्य कार्यपालन अफसर अटल बिहारी वाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान भोपाल के सदस्य होंगे। 

क्या होता है जी-20 शिखर सम्मेलन:-
यूरोपियन यूनियन देश मिलकर जी-20 का निर्माण करते हैं। इसमें 20 देशों के अध्यक्षों की वार्षिक बैठक की जाती है। जिसे जी-20 शिखर सम्मेलन के नाम से जाना जाता है। इस सम्मेलन में सभी देशों के मुख्य विषय आर्थिक समस्या, ग्लोबल वॉर्मिंग, स्वास्थ, आतंकवाद एवं अन्य आवश्यक मसलों पर चर्चा की जाती है। पूरी दुनिया में जितने भी आर्थिक उत्पादन होते हैं, उसमें से 80 प्रतिशत योगदान इन 20 देशों का होता है।

ED की बड़ी कार्रवाई, VIVO समेत चीनी कंपनियों के 44 ठिकानों पर एकसाथ रेड

छोटा हो जाएगा NCR ! हरियाणा सरकार ने पेश किया प्रस्ताव

मुसलमानों ने बदलवाई स्कूल की प्रार्थना, हाथ जोड़ने पर लगवाई रोक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -