कोरोना काल में भी जमकर चांदी काट रहा फर्नीचर का कारोबार, जानिए क्या है वजह

कोरोना काल में भी जमकर चांदी काट रहा फर्नीचर का कारोबार, जानिए क्या है वजह

नई दिल्ली: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बीच वर्क फ्रॉम होम कल्चर ने कई कारोबार के अच्छे दिन शुरू कर दिए हैं. फेसमास्क, सैनिटाइजर, वैक्यूम क्लीनर आदि तो जमकर बिक ही रहे हैं, इस बीच फर्नीचर कारोबार में काफी अच्छी बढ़त देखी जा रही है. वर्क फ्रॉम होम, बच्चों की घर में ही ऑनलाइन क्लास आदि आवश्यकता के कारण स्टडी/कंप्यूटर टेबल, ऑफिस चेयर आदि की जबरदस्त मांग है.

फर्नीचर ब्रांड पेपरफ्राई के को-फाउंडर आशीष शाह का तो दावा है कि गत वर्ष जून के अनुपात में इस वर्ष जून में टेबल और चेयर की मांग क्रमश: 175 फीसदी और 135 फीसदी बढ़ गई है. गोदरेज इंटीरियो के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट सुबोध मेहता का कहना है कि, 'ऑफिस फर्नीचर की बिक्री में 15 फीसदी कि वृद्धि हुई है. अधिकतर लोग अब वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं, कार्यालय में बहुत सीमित लोग जा रहे हैं. इसलिए घर में एक समुचित वर्क स्टेशन रखना लोगों की आवश्यकता हो गया है.'

रिटेलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की हाल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, फर्नीचर इंडस्ट्री के कारोबार में जबरदस्त इजाफा हुआ है. आपको बता दें कि भारत के लगभग 30 अरब डॉलर के फर्नीचर कारोबार का 90 प्रतिशत हिस्सा असंगठित क्षेत्र में है. कोरोना लॉकडाउन के कारण बहुत से कारपेंटर बेरोजगार हो गए. किन्तु संगठित क्षेत्र के कारोबार में शानदार बढ़त आ रही है.

अमेरिका में पकड़ा गया भारतीय कारोबारी, जाने क्या है मामला

अब E-Commerce कंपनियों की खैर नहीं, अगर प्रोडक्ट पर नहीं हुई ये डीटेल, तो होगी जेल

मोदी सरकार दे रही बेहद सस्ता सोना खरीदने का मौका, आज आखिरी दिन