घबराए उद्धव ने BJP से लगाई थी मदद की गुहार, अब हुआ ये बड़ा खुलासा

मुंबई: महाराष्ट्र में जारी राजनीतिक संकट के बीच आरोप-प्रत्यारोप का जुबानी जंग भी जारी है। इस बीच सूत्रों के अनुसार, उद्धव ठाकरे के फडणवीस के कॉल करने वाली बात को शिवसेना ने नकारा है। शिवसेना का कहना है उद्धव ठाकरे को जो भी बात करनी है वह खुलकर सामने आकर करते है।

महाराष्ट्र में राजनीतिक खतरे के बीच प्रदेश के सीएम उद्धव ठाकरे की ओर से सरकार बनाने का पुरजोर प्रयास किया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार, उद्धव ठाकरे ने देवेंद्र फड़नवीस से फ़ोन पर चर्चा की थी, किन्तु आला नेतृत्व ने उद्धव ठाकरे की फ़ोन लाइन पर आने से इंकार कर दिया था। शिव सेना नेतृत्व से भाजपा बात नहीं करेगी। हाईकमान का यह कहना है कि उद्धव ठाकरे को बात करना हुआ है तो बाग़ी गुट से चर्चा करे।

वही महाराष्ट्र में सरकार का फ़ार्मूला तय हो चुका है। भाजपा शिंदे समेत सभी दलों का मंत्रिमंडल में प्रतिनिधित्व होगा। छह विधायकों पर एक मंत्रिमंडल एवं एक राज्य मंत्री दिया जाएगा। शिवसेना के एकनाथ शिंदे कैंप को 6 मंत्रिमंडल एवं 6 राज्य मंत्री बनाए जा सकते हैं। आरम्भ में 4 मंत्री पद खाली रखे जाएँगे। उपमुख्यमंत्री के साथ भारी भरकम मंत्रालय दिया जाएगा। जबकि, भाजपा के 18 कैबिनेट मंत्री होंगे तथा लगभग 10 राज्यमंत्री बनाए जाएँगे।

'कांग्रेस जितनी जल्दी खत्म हो जाए, लोकतंत्र के लिए उतना अच्छा...' ओवैसी ने दिया बड़ा बयान

गुजरात दंगा: हिंसा पीड़ितों के नाम पर फंड जुटाकर खुद खा गई तीस्ता सीतलवाड़, करीबी ने किया खुलासा

ED के समन के बाद भी पेश नहीं होंगे संजय राउत, कहा था - मुझे गिरफ्तार करो

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -