कर्नाटक में फ्रेशर पार्टी बनी दुश्मन, इस राज्य में भी फूटा कोरोना बम

दुनियाभर में कोरोना के नए स्वरूप ओमीक्रॉन को लेकर दहशत फ़ैल चुकी है। वहीं दूसरी तरफ कर्नाटक राज्य में कॉलेज के विद्यार्थियों की एक पार्टी ने सुपर स्प्रेडर का रूप लेकर हड़कंप मचा दिया है। जी दरअसल यहाँ पार्टी में शरीक हुए लोगों के जरिए अब तक 281 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। आपको बता दें कि दूसरी लहर की शांति के बीच यह पहली सुपर स्प्रेडर घटना है। हालाँकि अब देश के कई दूसरे राज्यों में भी ‘कोरोना बम’ फूटने लगे हैं। इस लिस्ट में बेंगलुरु भी शामिल है।

यहाँ से करीब 450 किलोमीटर दूर धरवाड़ शहर के एसडीएम मेडिकल कॉलेज में दस दिन पहले हुई फ्रेंशर्स पार्टी अब एक सुपर स्प्रेडर घटना बन चुकी है। कहा जा रहा है शुरूआत में इस पार्टी में शामिल हुए 66 विद्यार्थी व स्टाफ संक्रमित पाए गए थे, लेकिन अब इस आयोजन के कारण संक्रमित होने वाली की संख्या 281 हो चुकी है। वहीं इस मामले के बारे में जिलाधिकारी का कहना है कि संक्रमितों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि अभी 1822 मरीजों की कोविड-19 जांच का रिजल्ट आना बाकी है।

आपको बता दें कि इस मेडिकल कॉलेज के दो हॉस्टल सील किए गए हैं और रविवार तक अवकाश घोषित है। वहीं इसके अलावा (तेलंगाना) हैदराबाद का भी नाम शामिल है। यहाँ के नजदीक स्थित महिंद्रा विश्वविद्यालय में संक्रमण फैलने से अब तक 25 विद्यार्थी और पांच शिक्षक कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। यहाँ कैंपस को बंद कर दिया गया और 1700 विद्यार्थी व फैकल्टी स्टाफ को अपने-अपने घरों में आइसोलेट रहने को कहा गया है। आपको बता दें कि यह निजी विवि टेक महिंद्रा कंपनी की है।

अफ्रीका से मुंबई आने वालों को 14 दिनों का क्वारंटीन, एक भी मरीज मिला तो पूरी इमारत होगी सील

दिल्ली: 29 नवंबर से खुलेंगे स्कूल, वायु गुणवत्ता में आया सुधार

कितना खतरनाक है कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन, एक बार फिर खड़े हुए कई सवाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -