हैदराबाद में हिमायत सागर झील के पास मिला फ्रांसीसी नागरिक का शव

हैदराबाद : मैरीका ग्रुप ऑफ स्कूल्स की संस्थापक और अध्यक्ष काली मंदिर के सन सिटी निवासी मैरी क्रिस्टीन डी रोचेमोंटिक्स की उनके एक रिश्तेदार ने वित्तीय विवाद के कारण गला घोंटकर हत्या कर दी है। विक्टिम मैरी क्रिस्टीन अपने परिवार के सदस्यों और साथी फ्रांसीसी नागरिकों के साथ बीस साल से अधिक समय से शहर में रह रही थी। टोली चौकी और किस्मतपुर में मरिका ग्रुप ऑफ स्कूल्स की शाखाएं भी हैं।

एक अधिकारी ने कहा- "संदिग्ध ने उसकी उसके आवास पर हत्या कर दी और बाद में शव को हिमायत सागर झील के पास झाड़ियों में फेंक दिया।" उसके शरीर को उस्मानिया जनरल अस्पताल के मुर्दाघर में स्थानांतरित कर दिया गया, जहां विष विज्ञान विशेषज्ञों ने एक शव परीक्षण किया और सुझाव दिया कि मैरी की गला घोंटकर हत्या की गई है। एक अधिकारी ने कहा कि "संदिग्ध ने उसकी उसके आवास पर हत्या कर दी और बाद में शव को हिमायत सागर झील के पास झाड़ियों में फेंक दिया।"

जांच में शामिल अधिकारियों ने गिरफ्तार संदिग्धों के बारे में अधिक जानकारी साझा करने से इनकार करते हुए कहा कि शमशाबाद के डीसीपी एन. प्रकाश रेड्डी इस मामले को लेकर शाम को एक मीडिया कॉन्फ्रेंस करेंगे। मैरिका ग्रुप ऑफ स्कूल्स के प्रिंसिपल जुवेरिया नाज़ीश ने एक बयान जारी किया: "बहुत भारी मन के साथ, हम आपको हमारे प्रिय संस्थापक और मैरिका ग्रुप ऑफ स्कूल्स के अध्यक्ष, एल्डर मैडम मैरी क्रिस्टीन डी रोचेमोंटिक्स के नुकसान की सूचना दे रहे हैं। पूरे परिवार के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना है।ऑनलाइन कक्षाएं एक सप्ताह के लिए स्थगित कर दी जाएंगी।

मंगल पर मिला नमक, जगी जीवन की उम्मीद

इस राज्य में शुरू हुआ ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ प्रोजेक्‍ट, ड्रोन से होगी दवाइयों की डिलीवरी

LIC की इस सुपरहिट स्कीम में मिल रहा है 1 करोड़ रुपये का मुनाफा

Most Popular

- Sponsored Advert -