रूस के विमान को लेकर अलग-अलग दावे, फ्रांस ने खारिज किया ISIS का दावा

काहिरा : मिस्त्र में दुर्घटनाग्रस्त हुए रूसी विमान को लेकर एक के बाद एक रहस्य सामने आ रहे हैं। जहां यह कहा जा रहा है कि यह विमान क्रेश हो गया है तो दूसरी ओर यह भी बात सामने आई कि कुख्यात आतंकी संगठन आईएसआईएस द्वारा वीडियो जारी कर दिया गया। इस मामले में यह दावा किया गया था कि विमान को आईएसआईएस ने हमला कर मार गिराया है। दूसरी ओर फ्रांस ने इसे गलत बताया है। 

मिली जानकारी के अनुसार जांचकर्ताओं ने कहा है कि विमान का फ्लाईट डाटा रिकाॅर्डर मिल गया है। जिससे यह जानकारी मिली है कि जहाज क्रैश हुआ। जब विमान की दुर्घटना हुई तो यह लगभग 30 हजार फुट की ऊंचाई पर उड़ रहा था। जांचककर्ताओं ने यह भी कहा कि आतंकी संगठन आईएसआईएस इतनी ऊंचाई पर उड़ रहे विमान को अपना निशाना नहीं बना सकता है।

आईएसआईएस के पास ऐसी तकनीक नहीं है जिससे वह 90000 मीटर या इससे अधिक की ऊंचाई पर उड़ रहे विमान को निशाना बनाए। मिली जानकारी के अनुसार आईएसआईएस से जुड़े आतंकी संगठन द्वारा वीडियो जारी किया गया जिसमें इस विमान को जमीन की ओर गिरते हुए बताया गया।

मगर यह वीडियो स्पष्ट भी नहीं है। उन्होंने कहा कि कैप्टन वैलेरी नेमोव को 12 हजार घंटों का फ्लाइट एक्सपीरियंस था यही नहीं विमान उड़ाने  में भी पायलट बहुत अनुभवी थे। ऐसे में वे किसी तरह की गलती नहीं कर सकते थे। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -