दूसरे महीने FPIs शुद्ध खरीदारों के लिए फरवरी में 23,663 करोड़ रुपये का किया निवेश

Mar 01 2021 08:28 AM
दूसरे महीने FPIs शुद्ध खरीदारों के लिए फरवरी में 23,663 करोड़ रुपये का किया निवेश

नई दिल्ली: विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (FPI) ने केंद्रीय बजट 2021-22 और मजबूत तीसरी तिमाही की कमाई के कारण उत्साहजनक प्रोत्साहन के कारण फरवरी में भारतीय बाजारों में 23,663 करोड़ रुपये का निवेश किया। विदेशी निवेशकों ने 25687 करोड़ रुपये इक्विटी में निवेश किए लेकिन 1-26 फरवरी के दौरान बॉन्ड मार्केट से 2,124 करोड़ रुपये निकाले। 

समीक्षाधीन अवधि में इसने कुल शुद्ध निवेश 23,663 करोड़ रु. पिछले महीने कुल शुद्ध निवेश 14,649 करोड़ रुपये था। कोटक सिक्योरिटीज के कार्यकारी उपाध्यक्ष और प्रमुख (मौलिक अनुसंधान) रुस्मिक ओज़ा ने कहा, "इस महीने के अधिकांश एफपीआई प्रवाह को केंद्रीय बजट और तीसरी तिमाही के आय सीजन के मजबूत परिणाम के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है।" 

इसके अलावा जियोजित फाइनेंशियल चीफ इनवेस्टमेंट स्ट्रैटेजिस्ट वीके विजयकुमार ने कहा कि अमेरिका के 10 साल के उत्पादन के बाद से एफपीआई प्रवाह की गति धीमी हो गई है। यूएस 10-वर्षीय बॉन्ड यील्ड पूंजी प्रवाह का एक बेहद महत्वपूर्ण निर्धारक है। मुद्रास्फीति की उम्मीदें पैदावार को बढ़ा रही हैं। उन्होंने कहा कि इससे पूंजी प्रवाह धीमा होगा। ओज़ा ने कहा कि उपज, जिसने कैलेंडर वर्ष 0.91 प्रतिशत से शुरू किया था, अब बढ़कर 1.47 प्रतिशत हो गई है। "इसने दुनिया भर में बांड पैदावार को जन्म दिया है।" इसके अलावा अमेरिकी सरकार से आने वाले यूएसडी 1.9-ट्रिलियन प्रोत्साहन इस कैलेंडर वर्ष में यूएस जीडीपी में तेज सुधार कर सकते हैं।

विपक्ष ने कोरोना वैक्सीन पर उठाए थे सवाल तो पीएम मोदी ने दिया इस तरह जवाब

तिलक लगाना होता है बहुत शुभ, जानिए होते है क्या फायदे?

भीष्म पितामह के अनुसार पति-पत्नी को नहीं खाना चाहिए एक थाली में खाना, पड़ता है दुष्प्रभाव