साल के अंत तक आ जाएगा चीन और पाकिस्तान के छक्के छुड़ाने वाला लड़ाकू विमान

राफेल लड़ाकू विमान इस साल जुलाई के अंत तक फ्रांस से भारत पहुंचना शुरू हो जाएंगे. यह विमान हवा में भारत की मारक क्षमता को और ताकतवर बना देगा. मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार यह विमान हवाई हमले की क्षमता के मामले में भारत को पाकिस्तान और चीन दोनों पर बढ़त देगा. बता दें कि विमान पहले मई अंत तक भारत आने वाले थे, लेकिन कोरोना वायरस (COVID-19) के कारण इसे दो महीने के लिए स्थगित कर दिया गया. ये एयरक्रॉफ्ट पंजाब के अंबाला एयरबेस पर उतरेंगे.

स्पेशल ट्रेनों का राज्य में रुकने को लेकर सीएम प्रमोद ने बोली यह बात

इस मामले को लेकर रक्षा सूत्रों ने मीडिया को बताया कि, ' तीन ट्विन-सीटर ट्रेनर एयरक्राफ्ट और एक सिंगल-सीटर लड़ाकू विमान सहित पहले चार विमान जुलाई के अंत तक अंबाला एयरबेस पर पहुंचने लगेंगे. ये लड़ाकू विमान आरबी सीरिज के होंगे.पहला विमान 17 गोल्डेन एरोज के कमांडिंग ऑफिसर फ्रांस के पायलट के साथ उड़ाएंगे.'

आज शिवराज सरकार केंद्र को भेजेंगी सिफारिश, लॉकडाउन में मिल सकती है कुछ राहत

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार फ्रांसीसी वायु सेना के टैंकर विमान से इन लड़ाकू विमानों में हवा में ही ईंधन भरा जाएगा. इसके बाद ये मिडिल ईस्ट में किसी जगह विमान उतरेंगे. मिडिल ईस्ट से आते वक्त भारत में उतरने से पहले भारतीय आईएल -78 टैंकर द्वारा फिर से हवा में ईंधन भरा जाएगा. सूत्रों ने कहा कि राफेल सीधे फ्रांस से भारत आ सकता था, लेकिन एक छोटे कॉकपिट के भीतर 10 घंटे की उड़ान तनावपूर्ण हो सकती है.

इस साल देरी से आएगा मानसून, मौसम विभाग ने जताया पूर्वानुमान

जमातियों पर कारवाई हुई शुरू, क्वारंटीन के बाद 18 लोगों को भेजा गया जेल

इस शहर के कब्रिस्तान में एडवांस में खुदवाई गई कब्रें, लोगों की बढ़ी चिंता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -