चीतल का शिकार करने वाले 4 आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

मंडला : चीतल के शिकार के आरोप में कान्हा टाइगर रिजर्व टीम ने 4 ग्रामीणों को अरेस्ट कर अदालत में पेश किया है. इन चारों आरोपियों के पास से शिकार में उपयोग की जाने वाली सामग्री भी बरामद हुई है. मिली जानकारी के अनुसार पार्क प्रबंधन को इसकी जानकारी एक मुखबिर द्वारा मिली थी कि बटवार गांव में चीतल का शिकार किया गया है.

सूचना मिलते ही आला अफसर हरकत में आ गए और परिक्षेत्र अधिकारी खटिया द्वारा एक टीम गठित की गयी और बटवार गांव में जाकर दबिश दे कर 4 आरोपियों को गिरफ्त में ले लिया गया. आरोपी लामू सिंह पिता फगनू गोंड़, मनोज कुमार पिता लामूसिंह गोंड़, सुखदेव पिता कमलसिंह गोंड़ एवं संतोष पिता साधूसिंह गोंड़ ने बताया कि उन्होंने अपनी बाड़ी में एक फंदा लगाया और चीतल का शिकार किया.

आरोपियों द्वारा मिली जानकारी से चीतल के पैर, सींग, चमड़ा और फंदा आदि टीम द्वारा जब्त कर लिए गए और आरोपियों को वन्यप्राणी एक्ट 1972 अंतर्गत आने वाली विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया. अदालत ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया. आरोपियों को पकड़ने के लिए जो टीम बनायीं गयी उसमे जितेन्द्र अवासे परिक्षेत्र अधिकारी खटिया, ज्ञानीलाल मरावी परिक्षेत्र सहायक खटिया, सतीष कुमार पटेल वनरक्षक, रामगणेष पटेल वनरक्षक, श्यामलाल धुर्वे वनरक्षक, देवेन्द्र कुमार तिवारी वनरक्षक टाईगर प्रोटेक्षन फोर्स और अन्य कर्मचारी शामिल थे.

प्रद्युम्न हत्याकांड : CBI ने दी कंडक्टर अशोक को क्लीन चिट

एयर इंडिया के पयलट ने बीच में छोड़ा सफर

नारायण दत्त तिवारी की हालत गंभीर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -