अखंड सौभाग्य की लालिमा मिलती है तीज व्रत से

By Shivansh Mishra
Sep 03 2016 02:04 PM
अखंड सौभाग्य की लालिमा मिलती है तीज व्रत से

भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाने वाले हरतालिका तीज व्रत की बड़ी महत्वता है . इस बार यह तीज का व्रत 4 सितम्बर  दिन रविवार को किया जायेगा.इस व्रत को करना,एक अच्छा वर पाना , पति की उन्नति और लंबी आयु के लिए किया जाने वाला व्रत है . इस व्रत को करने से आपके घर-परिवार में सुख-शांति आती है जीवन धन-धान्य से भर जाता है .

इस दिन सभी स्त्रियां सुन्दर- सुन्दर वस्त्र धारण कर विधि विधान से पूजा पाठ करती है. और भगवान से अपने प्रीतम की लम्बी आयु और उनके मंगलमय जीवन के लिए प्रार्थना करती है .

भारत परंपराओं का देश है, प्यार, श्रद्धा और समर्पण के इस देश में व्रत और पूजा-पाठ भी सच्चे और पवित्र प्रेम की कहानी कहते हैं. जिसका ताजा प्रमाण है हरतालिका तीज. जिसको लेकर विवाहित महिलाओं और कुंवारी कन्याओं में काफी उत्साह है.इस मौके पर उनमें सजने-संवरने की होड़-सी मची है. यही कारण है कि बाजारों से लेकर ब्यूटी पार्लर तक में काफी भीड़ देखी जा रही है.

महिलाओं के द्वारा भगवान शिव पूजा की जाती है . महिलाये बड़ी ही साधना के साथ इस व्रत को करती है भोजन या पानी की एक बूंद के बिना इस व्रत को पूर्ण करती है.