जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान ब्रेंडन टेलर ने किया सन्यास का ऐलान, इस दिन खेलेंगे अंतिम मुकाबला

जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रेंडन टेलर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का निर्णय ले लिया है, और सोमवार को आयरलैंड के विरुद्ध अपना अंतिम मैच खेलते हुए नज़र आएँगे। टेलर ने 2004 में श्रीलंका के विरुद्ध एकदिवसीय मैच में पदार्पण किया और इंटरनेशनल क्रिकेट में जिम्बाब्वे के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों में से एक बन चुके है।

जहां इस बारें में ब्रेंडन टेलर ने ट्विटर पर एक बयान में बोला है कि भारी मन से मैं यह एलान कर रहा हूं कि कल मेरे प्यारे देश के लिए मेरा अंतिम मैच है। 17 वर्ष का उतार-चढ़ाव, मैं इसे दुनिया के लिए नहीं बदलने वाला हूँ। इसने मुझे विनम्र होना सिखाया है, हमेशा खुद को याद दिलाना है कि मैं जिस स्थिति में था उसमैं कितना लकी  था। गर्व के साथ बैज पहनना और मैदान पर सब कुछ छोड़ देना। अपनी बात को जारी रखते हुए टेलर ने कहा, मेरा लक्ष्य हमेशा टीम को बेहतर स्थिति में छोड़ना था क्योंकि जब मैं पहली बार 2004 में आया था तो मुझे उम्मीद है कि मैंने ऐसा किया है।

इस 34 साल बल्लेबाज ने रविवार को जिम्बाब्वे क्रिकेट, टीम के साथियों, परिवार और प्रशंसकों को भावनात्मक रूप से सुक्रिया अदा किया है। ब्रेंडन आगे कहते है  आखिरकार मेरी पत्नी और हमारे चार खूबसूरत बच्चों के लिए। आप सभी ने यात्रा में मेरा साथ दिया है और यह आपके बिना मेरे लिए सब कुछ मुश्किल था। इतना ही नहीं वह आगे कहते है मैं आप सभी से बहुत प्यार करता हूं।  हम बता दें कि टेलर ने 204 एकदिवसीय मैचों में 6677 रन बनाए हैं और जिम्बाब्वे के पूर्व बल्लेबाज एंडी फ्लावर के 6786 के राष्ट्रीय रिकॉर्ड से सिर्फ 112 रन कम हैं।

'बुक लॉन्च विवाद' को लेकर टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने दिया चौंकाने वाला बयान

कोरोना संक्रमित भारतीय कोच रवि शास्त्री समेत स्टाफ को भारत आने के लिए माननी होगी ये शर्त

IND vs ENG: रद्द हुए टेस्ट की भरपाई के लिए इंग्लैंड ने की दो T-20 खेलने की पेशकश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -