'सांसदों के बैठने के लिए सीट तक नहीं...', गुस्से में LG का शपथग्रहण समारोह छोड़कर चले गए पूर्व केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन

नई दिल्ली: दिल्ली के 22वें उप-राज्यपाल (LG) विनय कुमार सक्सेना के शपथग्रहण कार्यक्रम में एक अजब वाकया देखने को मिला। जब इवेंट में बैठने के लिए स्थान न मिलने से नाराज भाजपा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन समारोह छोड़कर चले गए। विनय सक्सेना को दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश विपिन संघी ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण में दिल्ली के सीएम और AAP सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल भी उपस्थित रहे।

उपराज्यपाल के शपथग्रहण से पहले ही गुस्से में जाते हुए हर्षवर्धन ने कहा कि, 'सांसदों के लिए इन्होंने सीट तक नहीं रखी हुई है।' इतना कहकर हर्षवर्धन अपनी गाड़ी की तरफ चल दिए। उन्होंने दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार से कहा है कि, 'मैं उपराज्यपाल विनय सक्सेना को इस संबंध में लिखूंगा।' हर्षवर्धन को जहां बैठाया जा रहा था वे उससे संतुष्ट नहीं थे। शपथ लेने के बाद दिल्ली के नए LG विनय ने कहा कि, '​​​दिल्ली के लोगों को बताना चाहता हूं कि मैं लोकल गार्जियन के तौर पर काम करूंगा न कि लेफ्टिनेंट गवर्नर के तौर पर। मैं राज भवन से अधिक सड़कों पर नजर आऊंगा।' बता दें कि सक्सेना अक्टूबर 2015 से खादी और ग्रामोद्योग आयोग में चेयरमैन थे।

बता दें कि अनिल बैजल के पिछले सप्ताह उप राज्यपाल पद से इस्तीफा देने के बाद 23 मई को विनय सक्सेना को इस पद के लिए चुना गया था। बैजल, 5 साल और 4 माह तक दिल्ली के उपराज्यपाल रहे। उन्होंने निजी कारणों के चलते त्यागपत्र दे दिया था।

CM शिवराज पर कमलनाथ का हमला, बोले- 'जब सब जनता को ही करना है तो फिर सरकार का क्या फायदा?'

क्या कांग्रेस का दामन थामेंगे नरेश पटेल ? बोले - 31 मई तक करूँगा ऐलान

मायावती को कैसा लगा योगी सरकार 2.0 का बजट ? जानिए क्या बोलीं बसपा सुप्रीमो

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -